Mothers Day: मदर्स डे एक दिन, दुनिया की सभी माँओं के नाम

Safalta Experts Published by: Kanchan Pathak Updated Sun, 08 May 2022 10:04 AM IST

एक बहुत प्रसिद्द कहावत है कि -  भगवान हमेशा हर जगह मौजूद नहीं हो सकते और इसलिए उसने माँ को बनाया. सचमुच माँ से खूबसूरत शब्द कुछ हो हीं नहीं सकता और मातृत्व से खूबसूरत कोई भूमिका नहीं हो सकती. एक ऐसी भूमिका जिसे दुनिया की हर औरत निभाना चाहती है. दुनिया के हर रिश्ते से बढ़ कर एक माँ और उसके बच्चे का रिश्ता होता है. एक निःस्वार्थ रिश्ता जिसमें एक माँ के पास अपने बच्चे को देने के लिए केवल वात्सल्य, ममता, प्यार और दुआएँ होतीं हैं. और बदले में उसे कुछ भी नहीं चाहिए होता है. भले हीं बच्चा कितना भी बड़ा हो जाए, बचपन से जवान और जवान से प्रौढ़ हो जाए पर मां का प्यार नहीं कभी बदलता है, न फीका पड़ता है और न हीं कभी ख़त्म होता है.   FREE GK EBook- Download Now.

Source: Safalta

Free Demo Classes

Register here for Free Demo Classes

Please fill the name
Please enter only 10 digit mobile number
Please select course
Please fill the email

 

भारतीय संस्कृति में माँ -

हमारी  भारतीय संस्कृति में माँ का स्थान देवताओं से भी ऊपर माना गया है. कहते हैं कि मनुष्य के पाँच ऋणों में मातृ-ऋण हीं ऐसा ऋण है जिससे कभी उऋण नहीं हुआ जा सकता. माँ के प्रति अगाध श्रद्धा होने के बाद भी भारतीय संस्कृति में मदर्स डे या मातृ दिवस की अवधारणा कुछ ज्यादा पुरानी नहीं है. माँ के प्रति श्रद्धा, सम्मान, प्रेम और कृतज्ञता व्यक्त करने वाले इस दिवस को पिछले कुछ सालों से भारत में खुले दिल से अपनाया जा रहा है. बिना किसी शिकायत के अपनी संतान का लालन पालन और बेशर्त प्यार देने वाली माँ के उत्सव को भारत में कितनी लोकप्रियता मिली है ये इस बात से साबित होता है कि शहर तो शहर आज गाँवों में भी लोग मातृ प्रेम की शक्ति का जश्न मनाने लगे हैं.

अन्तर्राष्ट्रीय मातृ दिवस -(International Mother's Day)

अन्तर्राष्ट्रीय मातृ दिवस, दुनिया की सम्पूर्ण मातृ-शक्ति को समर्पित एक महत्वपूर्ण दिवस है. मदर्स डे, माँ के साथ-साथ मातृत्व, मातृ बंधन और समाज में माताओं के स्थान का भी सम्मान करने वाला उत्सव है. भारत की बात करें तो दो-तीन दशक से भी कम समय में यह उत्सव भारत में काफी तेजी से लोकप्रिय हुआ है. मदर्स डे दुनिया के कई हिस्सों में अलग-अलग दिनों में मनाया जाता है. वैसे आमतौर पर यह दुनिया भर में मार्च या मई के महीनों में हीं मनाया जाता है. मदर्स डे दुनिया भर में माँ या माँ के समान स्त्रियों के प्रति अपनी श्रद्धा और प्रेम दिखाने का दिन है. यह एक वार्षिक आयोजन है. अलग अलग देशों में यह अलग-अलग तिथियों में आयोजित किया जाता है -

 
क्रम संख्या देश मदर्स डे मनाने का दिन
1. ऑस्ट्रेलिया मई के दूसरे रविवार को
2. कनाडा मई महीने का दूसरा रविवार
3. संयुक्त राज्य अमेरिका मई महीने का दूसरा रविवार
4. यूनाइटेड किंगडम ईस्टर संडे से ठीक तीन सप्ताह पहले
5. कोस्टा रिका 15 अगस्त,
6. जॉर्जिया 3 मार्च
7. थाईलैंड 12 अगस्त
8. समोआ मई महीने का दूसरा सोमवार
 
May Month Current Affairs Magazine DOWNLOAD   
 

मदर्स डे के दिन लोग क्या करते है ?

मदर्स डे या मातृ दिवस के दिन मातृत्व की इस सच्ची भावना को सेलिब्रेट किया जाता है. दुनिया भर में हर साल 10 मार्च को न जाने कितने लोग अपनी माताओं के लिए अपने ह्रदय के विशेष विचार लिखते हैं. वे विचार जो उन्होंने कभी प्रत्यक्ष रूप से अपनी माँ के समक्ष नहीं दिखाए होंगे. इस दिन लोग अपनी मां और माँ के समान स्त्रियों को याद करते हैं. मां के समान स्त्रियों में सौतेली मां, कोई रिश्तेदार, सास, अभिभावक या पारिवारिक मित्र कोई भी हो सकती है. अलग अलग देशों में मदर्स डे मनाने के भी कई अलग-अलग तरीके हैं जैसे -
  • विदेशों में इस दिन रेस्तरां और कैफे सामान्य से अधिक व्यस्त हो जाते हैं, क्योंकि बहुत से लोग अपनी माताओं को दावत के लिए बाहर ले जाते हैं.
  • माँ को कार्ड, फूल या केक देते हैं.
  • माँ अगर दूर है तो मुलाकात या पारिवारिक सभा करते हैं.
  • माँ और परिवार के साथ घर पर, कैफे में या रेस्तरां में पारिवारिक ब्रेकफास्ट, लंच या डिनर.
  • अगर बच्चे दूर रहते हैं तो इस दिन अपनी माँ को व्यक्तिगत फोन कॉल.
  • मातृ दिवस से सम्बंधित कविताएँ और मैसेज.
  • माँ के लिए चॉकलेट, गहने, एक्सेसरीज़, कपड़े, हॉबी इक्विपमेंट या टूल्स, हैंडमेड आइटम या गिफ्ट वाउचर के उपहार.
 
मदर्स डे चीन सहित दुनिया के विभिन्न देशों में मनाया जाता है जहाँ कार्नेशन्स लोकप्रिय मदर्स डे उपहार हैं. समोआ में पूरे देश में कुछ समूह गीत और नृत्य प्रदर्शन आयोजित किया जाता हैं. चीन में सामोन समाज में माताओं के प्यार ममता और योगदान का जश्न मनाया जाता है.
 

Free Daily Current Affair Quiz-Attempt Now

Hindi Vyakaran E-Book-Download Now

Polity E-Book-Download Now

Sports E-book-Download Now

Science E-book-Download Now


शुरुआत -

कुछ स्रोतों के अनुसार, प्राचीन ग्रीक सभ्यता में रिया ने देवताओं की माता का सम्मान करने के लिए सबसे पहला मातृ दिवस समारोह आयोजित किया था. बाद में, यूनाइटेड किंगडम में मदरिंग संडे परंपरागत रूप से लोगों के लिए एक दिवस माना गया जिस दिन उस चर्च में जाने का दिन था. यही दिवस आधुनिक समय में मातृत्व दिवस बना.

मदर्स डे की आधुनिक उत्पत्ति –

इसका श्रेय जूलिया वार्ड होवे और अन्ना जार्विस को दिया जाता है, जिसने संयुक्त राज्य में इस  परंपरा को स्थापित किया. 1870 के आसपास, जूलिया वार्ड होवे ने हर साल एक दिन माताओं के लिए मनाने का आह्वान किया. उसके प्रायोजन के तहत लगभग 10 वर्षों तक बोस्टन में यह आयोजित होता रहा. अन्य स्रोतों का कहना है कि जूलियट कैलहौन ब्लेकली ने 1800 के दशक के अंत में मिशिगन के एल्बियन में मदर्स डे की शुरुआत की थी. उनकी मृत्यु के बाद उनके बेटों ने हर साल उन्हें श्रद्धांजलि दी और दूसरे लोगों से अपनी अपनी माताओं का सम्मान करने का आग्रह किया.

1907 में, अन्ना जार्विस ने वेस्ट वर्जीनिया के ग्राफ्टन में अपनी मां, एन जार्विस की याद में एक निजी मातृ दिवस समारोह को आयोजित किया था. 1908 में, उन्होंने एक चर्च में सेवा करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई. कई देशों में छुट्टी को बढ़ावा देने के लिए 1912 में एक मदर्स डे इंटरनेशनल एसोसिएशन की स्थापना की गई थी और तब से मदर्स डे तेजी से लोकप्रिय हो गया है.

व्यवसायीकरण -

बहुत से लोगों का मानना है कि मदर्स डे का अब बड़े पैमाने पर व्यवसायीकरण हो गया है जो सही नहीं है. भावनाओं का सौदा बिलकुल नहीं होना चाहिए. कार्ड कंपनियों, फूलों की दुकानों, गहनों की दुकानों, उपहार की दुकानों, रेस्तरां, होटलों और डिपार्टमेंटल स्टोरों के विज्ञापनों के प्रचार इस दिवस को एक सौदा बना रहे हैं. "एक बच्चा जो नहीं कहता है, एक माँ वो भी समझती है." ऐसे में मदर्स डे पर माताओं के लिए प्यार प्रदर्शित करने के कई तरीके हैं, इनका व्यवसायीकरण उचित नहीं है. अन्ना जार्विस ने अपने जीवनकाल में, मदर्स डे के अति-व्यावसायीकरण को रोकने के लिए एक मुकदमा भी दायर किया था.

अंत में माँ को समर्पित एक खूबसूरत भावना कि - मनुष्य के होठों पर अगर कोई सबसे सुंदर शब्द है, तो वह शब्द है 'माँ'. और दुनिया में अगर कोई सबसे सुंदर पुकार है तो वह है मेरी माँ की पुकार ...
संसार की सभी माताओं को मातृदिवस की शुभकामनाएँ.

Free E Books