Antyodaya Diwas 2022, अंत्योदय दिवस कब और क्यों मनाया जाता है

safalta expert Published by: Chanchal Singh Updated Fri, 23 Sep 2022 06:08 PM IST

Highlights

दीनदयाल उपाध्याय एक  पत्रकार, दार्शनिक और सक्षम राजनेता थे दीनदयाल को राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ आरएसएस प्रचारक एवं सदस्य के तौर पर काम किया है।
 

Antyodaya Diwas 2022: भारत में पंडित दीनदयाल उपाध्याय के जन्मदिवस को चिन्हित करने के लिए हर साल 25 सितंबर को अंत्योदय दिवस मनाया जाता है। अंत्योदय का अर्थ है गरीबी से व्यक्ति का उत्थान करना या अंतिम व्यक्ति का उत्थान है। इस दिन को मनाने के लिए  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 25 सितंबर 2014 को घोषित किया था, जिसे अधिकारिक तौर पर 25 सितंबर 2015 से लेकर आज तक 25 सितंबर को अंत्योदय दिवस मनाया जा रहा है।  अगर आप प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे हैं और विशेषज्ञ मार्गदर्शन की तलाश कर रहे हैं, तो आप हमारे जनरल अवेयरनेस ई बुक डाउनलोड कर सकते हैं   FREE GK EBook- Download Now. / GK Capsule Free pdf - Download here
 

कौन है पंडित दीनदयाल उपाध्याय जिनके जयंती पर अंत्योदय दिवस मनाया जाता है


1.1916 में उत्तर प्रदेश के चंद्रभान नामक एक छोटे से गांव में पैदा हुए पंडित दीनदयाल उपाध्याय भारतीय जनसंघ के प्रमुख नेता में से एक थे। बाद में जो भाजपा के नाम से उदय हुआ। वह 1953 से 1968 तक भारतीय जन संघ के नेता के रूप में कार्यरत है।
सभी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के लिए इस ऐप से करें फ्री में प्रिपरेशन - Safalta Application

2. दीनदयाल उपाध्याय एक  पत्रकार, दार्शनिक और सक्षम राजनेता थे दीनदयाल को राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ आरएसएस प्रचारक एवं सदस्य के तौर पर काम किया है।

3. दीनदयाल उपाध्याय ने सिविल सेवा परीक्षा में भी सफलता हासिल की थी लेकिन यह सेवा में शामिल नहीं हुए और आरएसएस के स्वयंसेवक बन गए थे।

4. 1940 में दीनदयाल उपाध्याय ने हिंदुत्व राष्ट्रवाद की विचारधारा के प्रसार प्रचार के लिए उत्तर प्रदेश के लखनऊ से एक मासिक पत्रिका राष्ट्र धर्म को लांच किया, बाद में उन्होंने पांचजन्य नामक एक और सप्ताहिक पत्रिका एवं दैनिक पत्रिका स्वदेश शुरू किया था।

Free Daily Current Affair Quiz-Attempt Now with exciting prize

 
5. दीनदयाल उपाध्याय के एकात्म मानववाद के दैशिक विचार को 1965 में जनसंघ और बाद में भारतीय जनता पार्टी के ऑफिशियल सिद्धांत के रूप में अपनाया गया था।

6.दीनदयाल उपाध्याय 11 फरवरी 1968 को उत्तर प्रदेश के मुगलसराय रेलवे स्टेशन के पास रहस्यमई स्थिति में मृत पाए गए थे। बाद में केंद्रीय जांच ब्यूरो सेंट्रल सीबीआई ने उन्हें लूटेरों द्वारा मार देने की बात कही।

सभी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के लिए इन करंट अफेयर को डाउनलोड करें

 

September Month Current affair

  Monthly Current Affairs August  2022
 DOWNLOAD NOW

डाउनलोड नाउ
Monthly Current Affairs July 2022 डाउनलोड नाउ
Monthly Current Affairs March 2022 डाउनलोड नाउ
Monthly Current Affairs February 2022 डाउनलोड नाउ
Monthly Current Affairs January 2022  डाउनलोड नाउ
Monthly Current Affairs December 2021 डाउनलोड नाउ
                                                                               

Source: Safalta

Free E Books