International Labour Day : अंतर्राष्ट्रीय मजदूर दिवस  क्यों मनाया जाता है।

safalta experts Published by: Chanchal Singh Updated Sun, 01 May 2022 06:28 PM IST

Highlights

इस दिन का मनाने का उद्देश्य इंटरनेशनल लेवल में आर्थिक और सामाजिक अधिकारों को प्राप्त करने में श्रमिकों के बलिदान को श्रद्धांजलि देना है।

International Labour Day : अंतर्राष्ट्रीय मजदूर दिवस हर साल 1 मई को इंटरनेशनल लेवल पर मनाया जाता है। इस दिन को अंतर्राष्ट्रीय श्रमिक दिवस और मई दिवस के रूप में भी जाना जाता है। लेबरों को उनके श्रम के अधिकारों के बारे में जागरूकता बताने और उनकी उपलब्धियों को चिह्नित करने के लिए यह दिन मनाया जाता है। इस दिन का मनाने का उद्देश्य इंटरनेशनल लेवल में आर्थिक और सामाजिक अधिकारों को प्राप्त करने में श्रमिकों के बलिदान को श्रद्धांजलि देना है। अगर आप प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे हैं और विशेषज्ञ मार्गदर्शन की तलाश कर रहे हैं, तो आप हमारे जनरल अवेयरनेस ई बुक डाउनलोड कर सकते हैं  FREE GK EBook- Download Now.

Source: Safalta

Free Demo Classes

Register here for Free Demo Classes

Please fill the name
Please enter only 10 digit mobile number
Please select course
Please fill the email

 

अंतर्राष्ट्रीय मजदूर दिवस का इतिहास क्या है:

अंतर्राष्ट्रीय मजदूर दिवस1886 में शुरू हुआ जब 1 मई को संयुक्त राज्य अमेरिका (United States of america) में  कर्मचारियों और श्रमिकों ने काम की अवधि को अधिकतम 8 घंटे प्रति दिन के हिसाब से तय करने के लिए हड़ताल शुरू किया था। इसके साथ ही 4 मई को शिकागो के हेमार्केट स्क्वायर में एक बम ब्लास्ट हुआ था जिसमें कई लोग मारे गए और बहुत से लोग गंभीर रूप से घायल हो गए थे। इस घटना में मारे गए लोगों को श्रद्धांजलि देने के लिए , समाजवादी अखिल-राष्ट्रीय संगठन (Socialist All-National Organization) ने 1 मई को अंतर्राष्ट्रीय श्रम दिवस के रूप में मनाना शुरू किया, जिसने दुनिया भर में श्रम कल्याण को भी बढ़ावा दिया।

 Free Daily Current Affair Quiz-Attempt Now with exciting prize


भारत में मजदूर दिवस का इतिहास क्या है

भारत में, पहला मजदूर दिवस या मई दिवस 1 मई, 1923 को लेबर किसान पार्टी ऑफ हिंदुस्तान (Labour Kisan Party of Hindustan) द्वारा मद्रास (अब जिसे चेन्नई के रूप में जाना जाता है) वहां मनाया गया था। पहली बार भारत में मजदूर दिवस के प्रतीक के रूप में लाल झंडा इस्तेमाल किया गया था। हिंदी में, मजदूर दिवस को कामगार दिन या अन्तरराष्ट्रीय श्रमिक दिवस, मराठी में कामगार दिवस और तमिल में उज़ईपलार नाल के रूप में भी जाना जाता है।

April Month Current Affairs Magazine DOWNLOAD NOW 

Free E Books