Biography of Indira Gandhi,भारत की पहली महिला प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी कि जीवनी

Safalta Expert Published by: Chanchal Singh Updated Fri, 18 Nov 2022 05:41 PM IST

Biography of Indira Gandhi : महान बनने के लिए हिम्मत चाहिए, मिशाल कायम करने के लिए हिम्मत चाहिए, और इनमे तो इतनी ज्यादा हिम्मत थी कि इन्होंने तो देश को आज़ाद करा दिया। यह एक ऐसी इंसान थी जिनका बहोत ज्यादा ही आलोचना हुआ, जिनको चुडेल तक बोला गया, इनको खुद कि ही पार्टी वालो ने कहा कि आप इस्तीफा दे दो। इतने सारे कठिनाई का सामना कर के इन्होंने देश के लिए काम किया। इन्होंने गरीबों के लिए काम किया, भारत को साइंस टेक्नोलॉजी के मामले मे बहोत आगे ले आई। गरीबी हटाओ नारा दिया, जी हां हम बात इन्दिरा गांधी कि कर रहे हैं। इन्दिरा प्रियदर्शिनी गाँधी  (19 नवंबर 1917-31 अक्टूबर 1984) वर्ष 1966 से 1977 तक लगातार 3 पारी के लिए भारत गणराज्य की प्रधानमन्त्री रहीं और उसके बाद चौथी पारी में 1980 से लेकर 1984 में उनकी राजनैतिक हत्या तक भारत की प्रधानमंत्री रहीं। वे भारत की प्रथम और अब तक एकमात्र महिला प्रधानमंत्री रहीं।इन्दिरा का जन्म 19 नवम्बर 1917 को राजनीतिक रूप से प्रभावशाली नेहरू परिवार में हुआ था। इनके पिता जवाहरलाल नेहरू और इनकी माता कमला नेहरू थीं।

Free Demo Classes

Register here for Free Demo Classes

Please fill the name
Please enter only 10 digit mobile number
Please select course
Please fill the email
Something went wrong!
Download App & Start Learning
इन्दिरा को उनका "गांधी" उपनाम फिरोज़ गाँधी से विवाह के पश्चात मिला था। इनके पिता जवाहरलाल नेहरू भारतीय स्वतंत्रता आन्दोलन के एक प्रमुख व्यक्तित्व थे और आज़ाद भारत के प्रथम प्रधानमंत्री रहे।

 FREE Current Affairs Ebook- Download Now. 

Free E Books