लोदी वंश का इतिहास Lodi dynasty In Hindi

Safalta Experts Published by: Blog Safalta Updated Tue, 17 Aug 2021 01:38 PM IST

लोदी वंश का इतिहास

लोदी वंश (1451-1526 ई.) 

  • बहलोल लोदी(1451-1489ई.) दिल्ली का प्रथम अफगान शासक था। गिजलोई कबीले की शाखा शाहूखेल में पैदा हुआ था
  • 19 अप्रैल,1451 ई. को बहलोल शाह गाजी की उपाधि धारण कर बहलोल लोदी दिल्ली की गद्दी पर बैठा।
इतिहास की संपूर्ण तैयारी के लिए आप हमारे फ्री ई-बुक्स डाउनलोड कर सकते हैं।

                          लोदी वंश के शासक 
शासक  काल
बहलोल लोदी 1451-1489ई.
सिकन्दर लोदी  1489-1517ई.
इब्राहीम लोदी 1517-1526ई.
  • बहलोल लोदी सरदारों को मसनद-ए-आली कहकर पुकारता था। 
  • बहलोल लोदी ने 'बहलोली सिक्के' का प्रचलन करवाया।
  • जुलाई,1489 ई. को जलाली के निकट बीमार पड़ने के करण बहलोल लोदी की मृत्यु हो गई।
सिकन्दर लोदी (1489-1517 ई.)
  • सिकन्दर लोदी  (1489-1517ई.) लोदी वंश योग्यतम शासक था। जिसने आगरा शहर की स्थापना कर अपनी राजधानी बनाया ।
  • इसने सिकंदरी गज चलाया और वह गुलरुखी के उपनाम से कविता लिखता था।
  • सुप्रसिध्द संत कबीर उसी का समकालीन था।
  • इब्राहिम लोदी दिल्ली सल्तनत का अन्तिम सुल्तान था जो सर्वथा अयोग्य था बाबर ने 1526 में पानीपत के प्रथम युद्ध में हरा कर दिल्ली सल्तनत का अंत किया।

Free E Books