27 दिसंबर को महामारी की तैयारी के लिए अंतर्राष्ट्रीय दिवस मनाया जाता है

Safalta Expert Published by: Blog Safalta Updated Mon, 27 Dec 2021 05:07 PM IST

Highlights

संयुक्त राष्ट्र और विश्व स्वास्थ्य संगठन ने 27 दिसंबर को महामारी की तैयारी का अंतर्राष्ट्रीय दिवस के रूप में घोसित किया हैं।

आपको बता दे कि कोविड -19 महामारी से ग्रसित, लोगो ने महामारी की तैयारियों के बारे में कठिन तरीके से सीखा है। आप तो यह जान ही रहे होंगे कि महामारी का समय कितना ही भयानक था। भविष्य के प्रकोपों के लिए तैयार करने और सभी स्तरों पर महामारी के बारे में लोगों को संवेदनशील बनाने के लिए। यह दिन पहली बार पिछले दिसंबर में मनाया गया था  लोगो ने इस महामारी से लड़ने कि योजना बनाई और वो दिन 27 दिसंबर के रूप में जाना जाता है। महामारी का वो दिन सोच के ही डर लगता है।जब पुरा देश परेसान था।

इस महामारी में लोगों ने अपनो को खोया है इस महामारी से लड़ने के लिए  लोगों ने एक दिन को चुना और वो दिन 27 दिसंबर था। सारे लोगो ने मिल कर एक संकल्प लिया और महामारी की तैयारी का अंतर्राष्ट्रीय दिवस 27 दिसंबर के रूप में मनाया।संयुक्त राष्ट्र के अनुसार, महामारी प्रबंधन पर सबक सीखना और महामारी की रोकथाम को मजबूत करने के लिए उन्हें लागू करना आवश्यक है ताकि भविष्य की किसी भी प्रतिकूलता के लिए सबसे पर्याप्त प्रतिक्रिया मिल सके। यह हर अंतरराष्ट्रीय संगठन और यहां तक कि हर समुदाय और व्यक्ति के बीच एकजुटता और साझेदारी के महत्व को भी रेखांकित करता है ताकि कोविड-19 जैसी महामारी का मुकाबला किया जा सके।

महामारी की तैयारी का अंतर्राष्ट्रीय दिवस: महत्व

Current Affairs Ebook Free PDF: डाउनलोड करे

Free E Books