Powerthon-2022 :पॉवरथॉन-2022 हैकाथॉन लांच की गई

safalta experts Published by: Chanchal Singh Updated Fri, 11 Feb 2022 05:34 PM IST

Highlights

1.पावरथॉन-2022 RDSS के तहत एक हैकाथॉन प्रतियोगिता है।
2. इसका आयोजन बिजली वितरण में जटिल समस्याओं को हल करने के लिए प्रौद्योगिकी संचालित समाधान खोजने के लिए किया जाएगा।

Powerthon-2022 :केंद्रीय बिजली और  MNRE मंत्री आर.के. सिंह ने 7 फरवरी, 2022 को पॉवरथॉन-2022 को लॉन्च किया है। यह एक जीवंत और कुशल बिजली नेटवर्क बनाने के लिए और समाधान विकसित करने वाली टीमों को बनाने के लिए टीएसपी, इनोवेस्टर्स और अन्य प्रतिभागियों के साथ योग्य सलाहकारों को एक साथ लाएगा। पावरथॉन-2022 के लॉन्च की घोषणा REC लिमिटेड ने SINE और IIT बॉम्बे के सहयोग से की थी।
Current Affairs Ebook Free PDF: डाउनलोड करे

मुख्य बिंदु

1.पावरथॉन-2022 RDSS के तहत एक हैकाथॉन प्रतियोगिता है।
2. इसका आयोजन बिजली वितरण में जटिल समस्याओं को हल करने के लिए प्रौद्योगिकी संचालित समाधान खोजने के लिए किया जाएगा।
3. यह गुणवत्ता और विश्वसनीय बिजली आपूर्ति सुनिश्चित करने का प्रयास करता है।
4.इस प्रतियोगिता को चलाने के लिए बिजली मंत्रालय के पास एक स्थायी निकाय होगा।
5.इस कार्यक्रम के तहत, विचारों और अवधारणाओं को लाइसेंस के साथ पुरस्कृत किया जाएगा, साथ ही प्रोटोटाइप के विकास को भी बढ़ावा दिया जाएगा।

पॉवरथॉन-2022 क्या है?

यह बिजली वितरण में होने वाले कठीन  समस्याओं को हल करने के लिये  टेक्नोलॉजी  पुनरुत्थान वितरण क्षेत्र संचालित समाधान खोजने की योजना बना रहा है(Revamped Distribution Sector Scheme-RDSS) जिसके तहत लॉन्च की गई हैकाथॉन प्रतियोगिता है।
 

यह प्रतियोगिता कैसे आयोजित की जाएगी?

1.पॉवरथॉन-2022 एक हैकाथॉन प्रतियोगिता है, जिसमें 
1.प्रौद्योगिकी निवारण देने वाले (Technology Solution Providers – TSPs),
2. शैक्षणिक संस्थान(educational institution), 
3.स्टार्ट-अप (startup)
4.

Source: social media

अनुसंधान संस्थान(research Institute)
5.राज्य बिजली उपयोगिताओं(state power utilities)
2.उपकरण निर्माताओं के साथ-साथ अन्य राज्य और केंद्रीय बिजली क्षेत्र की संस्थाओं को वर्तमान बिजली वितरण क्षेत्र में चुनौतियां पर जानकारी दी जाएगी।
3.उन्हें भाग लेने और उन समस्याओं को हल करने के लिए अपने प्रौद्योगिकी संचालित समाधानों का प्रदर्शन करने के लिए आमंत्रित किया जाएगा।
4.प्रतिभागियों को 9 विषयों के तहत उन्नत उभरती प्रौद्योगिकियों जैसे AI/ML, IoT, ब्लॉकचैन, VR/AR आदि के आधार पर अभिनव समाधान खोजने का काम सौंपा जाएगा।
5. नौ राज्यों के 14 डिस्कॉम के साथ विचार-विमर्श और परामर्श के बाद इन विषयों की पहचान की गई है।
 

समाधान खोजने के लिए क्या क्या विषय रखा गया है


विषय को 9 व्यापक पहलुओं में वर्गीकृत किया गया है:

1.मांग या भार का पूर्वानुमान
2.कुल तकनीकी और वाणिज्यिक की (Aggregate Technical & Commercial) हानि में कमी
4.ऊर्जा चोरी का पता लगाना
5.डीटी (वितरण ट्रांसफार्मर) विफलता की भविष्यवाणी
6.संपत्ति निरीक्षण
7.वनस्पति प्रबंधन
8.कंज्यूमर एक्सपीरियंस में वृद्धि
9.नवीकरणीय ऊर्जा एकीकरण
10.बिजली खरीद अनुकूलन
11. संशोधित वितरण क्षेत्र योजना
(Revamped Distribution Sector Scheme – RDSS)

इस प्रतियोगिता को किसने शुरू किया है-


पॉवरथॉन-2022 प्रतियोगिता को विद्युत मंत्रालय द्वारा शुरू की गई संशोधित वितरण क्षेत्र योजना  के उद्देश्य के अनुरूप शुरू किया जा रहा है।  Revamped Distribution Sector Scheme एक सुधार आधारित और परिणाम से जुड़ी योजना है। इसे कुल तकनीकी और वाणिज्यिक की  घाटे को 12-15% तक कम करने, 2024-25 तक एसीओएस-एआरआर दोनों के अंतर को समाप्त करने के साथ-साथ एक मजबूत बिजली क्षेत्र के निर्माण  और बिजली आपूर्ति की गुणवत्ता और विश्वसनीयता में सुधार के उद्देश्य से शुरू किया गया था।
General Knowledge Ebook Free PDF: डाउनलोड करें 

 

Free Demo Classes

Register here for Free Demo Classes

Please fill the name
Please enter only 10 digit mobile number
Please select course
Please fill the email

Free E Books