Doubt Banner

ओलम्पिक और कॉमनवेल्थ गेम्स में मिलने वाले गोल्ड मेडल किस तरह से बनाए जाते हैं?

Safalta Experts Published by: Kanchan Pathak Updated Thu, 04 Aug 2022 11:16 AM IST

Highlights

ज्यादातर लोग यही सोचते हैं कि गोल्ड या सिल्वर मेडल पूरा का पूरा सोने या चाँदी का बना हुआ होता होगा. क्या आप बता सकते हैं कि एक स्वर्ण पदक पूरे का पूरा सोने का बना होता है या नहीं ? तो आइए जानते हैं कि आखिर ये स्वर्ण या रजत पदक कितने वजन का होता है.

ब्रिटेन के बर्मिंघम में हो रहे कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 की शुरूआत हो चुकी है और अपने अपने देशों का प्रतिनिधित्व करने वाले विभिन्न क्षेत्रों के खिलाड़ी इन खेलों में अपनी बेस्ट परफॉरमेंस देकर अपने देश को गौरव की अनुभूति करा रहे हैं. हर खिलाड़ी की यही ख्वाहिश होती है कि उसे स्वर्ण पदक मिले. और इसके लिए वे जी जान से प्रदर्शन करते हैं. इस गेम में कई भारतीय खिलाड़ी भी अपने मंझे हुए दाँव लगा रहे हैं. अगर आप प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे हैं और विशेषज्ञ मार्गदर्शन की तलाश कर रहे हैं, तो आप हमारे जनरल अवेयरनेस ई बुक डाउनलोड कर सकते हैं  FREE GK EBook- Download Now. / Advance GK Ebook-Free Download
August Month Current Affairs Magazine DOWNLOAD NOW 
 

क्या सचमच सोने का होता है स्वर्ण पदक ?

ज्यादातर लोग यही सोचते हैं कि गोल्ड या सिल्वर मेडल पूरा का पूरा सोने या चाँदी का बना हुआ होता होगा. अधिकतर लोगों को इस बात को जानने की उत्सुकता रहती है कि आखिर एक गोल्ड या सिल्वर मेडल कितने ग्राम सोने या चाँदी से बना हुआ होता होगा.

Source: safalta

क्या आप बता सकते हैं कि एक स्वर्ण पदक पूरे का पूरा सोने का बना होता है या नहीं ? क्या आप जानते हैं कि ओलम्पिक में मिलने वाले गोल्ड मेडल में दरअसल सोने की मात्रा कितने ग्राम होती है ? तो आइए जानते हैं कि आखिर ये स्वर्ण या रजत पदक कितने वजन का होता है. इसमें सोने या चाँदी की मात्रा कितनी होती है और इन मेडल्स में कौन सी धातुओं को मिला कर इन्हें बनाया जाता है.

कितना होता है पदक का वजन

अधिकाँश ओलिंपिक में स्वर्ण और  रजत पदकों का वजन 500 से 550 ग्राम होता है.

Free Demo Classes

Register here for Free Demo Classes

Please fill the name
Please enter only 10 digit mobile number
Please select course
Please fill the email
कांस्य का वजन इन दोनों पदकों से कम होता है. इन पदकों को कई प्रकार के मेटल्स को रिसाइकिल करके बनाया जाता है. सिल्वर या रजत पदक में करीब 92 परसेंट शुद्ध चांदी और बाकी कांच, एक्सरे प्लेट्स आदि मिला कर बनाया जाता है. सिल्वर मेडल 550 ग्राम और ब्रोंज मेडल 450 ग्राम का होता है.

What is Commonwealth Games Queen's Baton : कॉमनवेल्थ गेम्स क्वीन्स बैटन रिले

What is United Nations Peacekeeping Force : जानिए क्या है संयुक्त राष्ट्र शांति सेना ?

Monkey Pox in India - भारत में मिला मंकीपॉक्स का पहला संदिग्ध केस जाने इसके बारे में विस्तार से
 

पूरी तरह सोने का होता है मेडल ?

इसका जवाब है नहीं. ओलिंपिक में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन के लिए दिया जाने वाला गोल्ड मेडल पूरी तरह सोने का बना हुआ नहीं होता है. इन गोल्ड मेडल्स में सोने की सिर्फ एक परत होती है. वास्तव में ये चांदी का बना हुआ होता है. जानकारियों के मुताबिक इन स्वर्ण पदकों में सिर्फ 1 पर्सेंट से कुछ और ज्यादा सोना होता है. कुल मिला कर एक स्वर्ण पदक में सोने की मात्र 6 ग्राम से थोड़ी ज्यादा होती है. सभी पदकों में स्वर्ण पदक सबसे भारी होता है और इसमें 6 ग्राम वजन सोने का होता है.
 
सामान्य हिंदी ई-बुक -  फ्री  डाउनलोड करें  
पर्यावरण ई-बुक - फ्री  डाउनलोड करें  
खेल ई-बुक - फ्री  डाउनलोड करें  
साइंस ई-बुक -  फ्री  डाउनलोड करें  
अर्थव्यवस्था ई-बुक -  फ्री  डाउनलोड करें  
भारतीय इतिहास ई-बुक -  फ्री  डाउनलोड करे 
 

ओलिंपिक गोल्ड मेडल प्राइस

ओलिंपिक में खिलाडियों को दिए जाने वाले गोल्ड मेडल का वजन 556 ग्राम होता है. इसमें 6 ग्राम सोना तथा 550 ग्राम चांदी होता है. इस तरह से देखा जाये तो सिल्वर की कीमत 37,290/- रूपए तथा सोने की कीमत 28,500/- रूपए होती है. दोनों को मिलाकर देखा जाए तो इंडियन रुपये के हिसाब से एक गोल्ड मेडल की कुल कीमत 65,790/-रूपए होती है.

दरअसल तो ये मेडल्स अनमोल होते हैं

यह सब बातें मैंने केवल जानकारी के लिए बताई हैं. दरअसल तो ये मेडल्स अनमोल होते हैं. इनकी कोई भी कीमत नहीं लगाई जा सकती क्योंकि यह एक खिलाड़ी के दिन रात की मेहनत और उसके देश के सम्मान के साथ जुड़ा हुआ होता है जो हर हाल में बहुमूल्य है.
 

Free E Books