CBSE Syllabus for Class 4 Hindi 2022-2023 , Check here

Safalta expert Published by: Gitika Jangir Updated Thu, 22 Sep 2022 10:57 AM IST

Highlights

Check here CBSE Class 4 Hindi syllabus 2022-23 at safalta.com.

Learning a new language can be difficult for students. The CBSE Hindi class 4 syllabus is designed in such a way that students can learn Hindi with complete ease. It is critical for students to understand the syllabus since this will allow them to design a study schedule that is convenient for them. This page provides a full CBSE Class 4 Hindi syllabus 2022. The Hindi syllabus is separated into two parts: literature and grammar; this article contains the complete syllabus.

Source: Safalta.com

We also provide a hindi guide for class 4 to help you better comprehend the question pattern.Recommended: Study for your Exams with Safalta School online. We provide Preparation materials for Classes 9-12 that can boost your preparations.

Also check,
CBSE Syllabus for Class 1 English 2022-2023, Download PDF


The CBSE Class 4 Hindi Syllabus includes both Literature and Grammar parts. We will look over the syllabus for each of these subjects independently.

Free Demo Classes

Register here for Free Demo Classes

Please fill the name
Please enter only 10 digit mobile number
Please select course
Please fill the email

CBSE Syllabus for Class 4 Hindi 2022-2023 : Literature

The following chapters are included in the CBSE class 4th Hindi syllabus for 2022:
  • पाठ 1: मन के भोले-भाले बादल
  • – पाठ 2: जैसा सवाल वैसा जवाब
  • – पाठ 3: किरमिच की गेंद
  • – पाठ 4: पापा जब बच्चे थे
  • – पाठ 5: दोस्त की पोशाक
  • – पाठ 6: नाव बनाओ नाव बनाओ
  • – पाठ 7: दान का हिसाब
  • – पाठ 8: कौन?
  • – पाठ 9: स्वतंत्रता की ओर
  • – पाठ 10: थप्प रोटी थप्प दाल
  • – पाठ 11: पढ़क्कू की सूझ
  • – पाठ 12: सुनीता की पहिया कुर्सी
  • – पाठ 13: हुदहुद
  • – पाठ 14: मुफ़्त ही मुफ़्त

CBSE Syllabus for Class 4 English 2022-2023 : Grammar

The table given below consists of CBSE Syllabis for class 4 English 

तत्सम और तद्भव शब्द

संस्कृत भाषा के वे शब्द जो बिना किसी परिवर्तन के हिंदी भाषा में बोले जाते है तत्सम शब्द कहलाते है जैसे- सूर्य, अग्नि, मयूर आदि । संस्कृत भाषा के जो शब्द हिंदी में विकृत रूप में प्रयोग होते है उन्हें तदभव् शब्द कहते है जैसे- सूरज (सूर्य), चाँद (चंद्र) आदि । 

पर्यायवाची शब्द

जिन शब्दों के अर्थ में समानता होती है, उन्हें पर्यायवाची शब्द कहते हैं। 

विलोम शब्द / विपरीतार्थक

विलोम शब्द वह शब्द है जिसका अर्थ दिए हुए शब्द के एकदम उल्टा होता है । 

श्रुतिसमभिन्नार्थक शब्द

जो शब्द सुनने और उच्चारण करने में समान प्रतीत हों, किन्तु उनके अर्थ भिन्न -भिन्न हों, वे श्रुतिसमभिन्नार्थक / समोच्चरित शब्द कहलाते हैं । 

हिंदी मुहावरे और अर्थ 

कोई भी ऐसा वाक्यांश जो अपने साधारण अर्थ को छोड़कर किसी विशेष अर्थ को व्यक्त करे उसे मुहावरा कहते हैं। 

अनेक शब्दों के लिए एक शब्द

हिंदी भाषा में अनेक शब्दों के स्थान पर एक शब्द का प्रयोग कर सकते हैं। भाषा में कई शब्दों के स्थान पर एक शब्द बोल कर हम भाषा को प्रभावशाली एवं आकर्षक बनाते हैं। 

अनेकार्थक शब्द

एक से अधिक अर्थ बतानेवाले शब्दों को अनेकार्थक शब्द कहते हैं।बहुत से शब्द ऐसे हैं, जिनके एक से अधिक अर्थ होते हैं। भिन्न – भिन्न वाक्यों में प्रसंग के अनुसार इनके अर्थ अलग होते हैं।   

समूहवाची शब्द 

अलग – अलग समूह के लिए कुछ विशेष शब्द प्रचलित हैं। उनका प्रयोग हर किसी शब्द के साथ नहीं किया जा सकता।   


Also check,

CBSE Syllabus for Class 2 English 2022-2023, Download PDF



 

Free E Books