Government Job for Women: महिलाओं के लिए बेस्ट सरकारी नौकरी के क्षेत्र.

Safalta Experts Published by: Nikesh Kumar Updated Sun, 06 Feb 2022 11:07 PM IST

किसी भी देश की तरक्की का अनुमान लगाना हो तो सबसे पहले उस देश की महिलाओं की दशा पर एक नज़र डाल लीजिए. महिलाओं की सशक्त दशा के बगैर कोई भी देश विकास कर हीं नहीं सकता. एक जमाना था जब भारत में नारी का जीवन घर की चारदीवारी के भीतर चौके चूल्हे तक सीमित था. इसका मुख्य कारण था स्त्री की आर्थिक विपन्नता और दासता. पुरुष की दासता हीं उसका जीवन था.

Source: social media

मध्यकाल की सामंती सोच ने नारी को पुरुष के पाँव की जूती बना रखा था. पर समय के साथ जब सोच बदली तब महिलाएँ चारदीवारियों से बाहर आकर न सिर्फ़ अपने बल बूते अपने पैरों पर खड़ी हो गई बल्कि आजीविका के क्षेत्र में पुरुष के साथ कन्धे से कन्धा मिलाकर चलने लगीं. आज के परिप्रेक्ष्य में देखें तो आधुनिक भारत का ऐसा कोई क्षेत्र नहीं जहाँ स्त्रियों ने अपने पैरों की छाप न छोड़ी हो.

Free Demo Classes

Register here for Free Demo Classes

Please fill the name
Please enter only 10 digit mobile number
Please select course
Please fill the email
अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस करीब है, सो दुनियाँ की सभी महिलाओं को एक ग्रैंड सैल्यूट के साथ आज हम उनकी आर्थिक निर्भरता को लेकर कुछ बेस्ट करियर क्षेत्र के बारे में बात करेंगे. यदि आप प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे हैं और विशेषज्ञ मार्गदर्शन की तलाश कर रहे हैं, तो आप हमारे जनरल अवेयरनेस ई बुक डाउनलोड कर सकते हैं  FREE GK EBook- Download Now.
Current Affairs Ebook Free PDF: डाउनलोड करे

डिफेन्स में महिलाएँ-

अब वो जमाना लद गया जब हम लिंग के हिसाब से पुरुष और महिला के करियर के क्षेत्रों का बंटवारा करते थे. डिफेन्स और पुलिस की नौकरी पर कभी पुरुषों का वर्चस्व हुआ करता था लेकिन अब महिलाओं ने अपनी जीवटता साबित कर दी है. उन्होंने साबित कर दिया है कि उनके अन्दर वो ज़ज्बा और जुनून हैं कि वह डिफेन्स और आर्मी जैसे जॉब को बड़े आराम से अपने करियर के लिए चुन सकती हैं.

वर्ष 2015 का वह पल आज भी आपको याद होगा जब अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा हमारे देश के गणतंत्र दिवस परेड में मुख्य अतिथि के तौर पर आए थे. और राष्ट्रपति भवन में उन्हें गार्ड ऑफ ऑनर और 21 तोपों की सलामी दी गयी थी. हिन्दुस्तान में उस दिन एक नया इतिहास रचा गया था. जी हाँ, भारतीय एयर फोर्स की विंग कमांडर पूजा ठाकुर को देश अब तक नहीं भूला होगा जिसने उस दिन राष्ट्रपति भवन में बराक ओबामा जैसी शक्तिशाली व्यक्तित्व को गार्ड ऑफ ऑनर दिया था.

वर्ष 1992 से भारतीय सेना ने अधिकारी संवर्ग में महिला उम्मीदवारों की भर्ती शुरू कर दी है. भारतीय सेना में शामिल होने की चाहत रखने वाली महिला कैंडिडेट्स के लिए ढेरों अवसर उपलब्ध हैं.  एसएससीडब्ल्यू–नॉन टेक - इण्डियन आर्मी वर्ष में दो बार यूपीएससी द्वारा आयोजित खुली भर्ती परीक्षा के 12 महिला उम्मीदवारों को अधिकारियों के रूप में भर्ती करती है.

एसएससीडब्ल्यू (एनसीसी) - एसएससीडब्ल्यू-एनसीसी की विशेष भर्ती योजना के अंतर्गत महिला एनसीसी कैडेट को भारतीय सेना में शामिल किया जाता है. भारतीय सेना 8 अविवाहित कैडेट की भर्ती करती है. इसके अतिरिक्त इंडियन आर्मी में अन्य भी कई पदों के लिए आप आवेदन कर सकती हैं जैसे - एसएससीडब्ल्यू-टेक्निकल एंट्री स्कीम/मिलिट्री नर्सिंग सर्विस आदि.

इसके अंतर्गत 21 से 35 वर्ष के बीच की महिला उम्मीदवार भारतीय सेना के साथ नर्सिंग कार्य करने के लिए आवेदन कर सकती हैं.

अपने परीक्षा की तैयारी को परखें हमारे फ्री मॉक टेस्ट से  

भारतीय नौसेना में कैरियर -

एटीसी - 

शैक्षणिक योग्यता- भारतीय नौसेना में एयर ट्रैफिक कन्ट्रोलर के पद के लिए महिला उम्मीदवार को विज्ञान संकाय अर्थात भौतिक शास्त्र/गणित/इलैकट्रोनिक्स में स्नातक या स्नातकोत्तर होना चाहिए.

ऐब्जर्बर - 
शैक्षणिक योग्यता- ऐब्जर्बर पद के लिए फीमेल कैंडिडेट्स को 19 से 23 वर्ष की आयु सीमा के साथ किसी भी मान्यता प्राप्त संस्थान से न्यूनतम 55 प्रतिशत अंकों के साथ किसी भी विषय में स्नातक उपाधि साथ हीं 10+2 स्तर पर गणित एवं भौतिक शास्त्र का होना अनिवार्य है.

लॉजिस्टिक्स- ऐसी महिला उम्मीदवार जिनके पास वैध आर्कीटेक्चर,कम्प्यूटर इंजीनियरिंग,आईटी, सिविल, इलेक्ट्रिकल , मरीन, मैकेनिकल में इंजीनियरिंग स्नातक उपाधि (बी.टेक/बी.ई) है वे इसके लिए आवेदन कर सकती हैं.
भारतीय वायु सेना- यदि आप एक लड़ाकू पायलट बनकर आसमान में देश की ऊँचाईयों को छूना चाहतीं हैं तो फ्लाईंग ब्रांच आपके लिए सबसे उचित आप्शन है. इन पदों के लिए शैक्षणिक योग्यता के रूप में महिला उम्मीदवारों को 10+2 स्तर पर गणित एवं भौतिक शास्त्र तथा किसी भी मान्यताप्राप्त संस्थान से 60 प्रतिशत अंकों के साथ किसी भी विषय में स्नातक होना आवश्यक है, न्यूनतम 60 प्रतिशत अंकों के साथ बी.ई./बी.टेक. उपाधि. इसके अलावा महिला कैंडिडेट्स एयर फ़ोर्स के टेक्निकल ब्रांच (तकनीकी शाखा)/ग्राउंड ड्यूटी/एडमिनिस्ट्रेशन विंग आदि विभागों के लिए भी आवेदन कर सकती है.

बैंक-
करियर के दृष्टिकोण से बैंक का जॉब महिलाओं के लिए काफी आकर्षक और सुरक्षित है. बैंक पीओ सहित बैंक के अन्य जॉब चुनौतीपूर्ण होते हैं जो आपके लिए विकास का बढ़िया अवसर प्रदान करते हैं. बैंक में क्लर्क/पी ओ सहित अन्य प्रकार के जॉब के लिए आज सबसे अधिक रिक्तियों की घोषणा की जाती है. 

जानें ड्रग इंस्पेक्टर क्या होता है? जानें क्या होनी चाहिए योग्यता
विस्तार से जानें फ़ूड इंस्पेक्टर जॉब प्रोफाइल, योग्यता मानदण्ड के बारे में

शैक्षणिक योग्यता-
बैंक पी ओ के लिए न्यूनतम शैक्षणिक योग्यता किसी भी मान्यताप्राप्त संस्थान से स्नातक की डिग्री है. हालाँकि अलग-अलग बैंकों में इसके लिए अलग-अलग डिवीज़न निर्धारित किया गया है परन्तु अधिकारी स्तर की परीक्षा के लिए ग्रेजुएशन अनिवार्य है.

अगर आप सामान्य ज्ञान/गणित/तर्कशक्ति पर पकड़ रखती हैं तो हल्की तैयारी से ही बैंक में जॉब पाकर अपने करियर को सुरक्षित कर सकती हैं. बैंक पीओ बैंकिंग प्रणाली में प्रवेश करने का उच्चतम स्तर है, जहाँ से आप बैंक सीईओ, अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक जैसे शीर्ष स्तर के पदों तक पहुँच सकती हैं. क्लर्क श्रेणी के पदों की बात करें तो इसके लिए 10+2 उत्तीर्ण भी आवेदन कर सकती हैं. 

पुलिस सेवा-
बड़े आश्चर्य की बात है कि महिलाओं की सुरक्षा तथा माहिला सशक्तिकरण लिए हम हिन्दुस्तानी भले कितना शोर मचा लें किन्तु आंकड़े गवाह हैं कि आज भी देश के कई राज्यों में महिला पुलिस कर्मियों की संख्या 15 % को पार नहीं कर पायी है. और यह सब तब है जब हम आए दिन महिला सशक्तिकरण और उनके उत्थान के लिए लम्बी चौड़ी  घोषणाएँ और दावे करते नहीं थकते हैं.

हमारी सुरक्षा के लिए जिम्मेवार पुलिस विभाग में महिलाएँ शामिल नहीं होना चाहती इसी बात से यह अंदाजा लगाया जा सकता है कि हालात कितने बदतर हैं. ऐसे देश में जहाँ बलात्कार की रिपोर्ट दर्ज कराने गई महिला के साथ पुलिस थाने में हीं बलात्कार की घटना हो जाए उस सिस्टम से भला और उम्मीद भी क्या की जा सकती है.

लेकिन सवाल उठता है कि सबकुछ वैसे ही छोड़ देने से क्या वह खुद ब खुद बदल जायेगा ? नहीं, इसके लिए सबसे अच्छा उपाय यही है कि अधिक से अधिक संख्या में महिलाएँ पुलिस में शामिल हों इसके लिए इस विभाग को “वीमेन फ्रेंडली” बनाने का प्रयास करना होगा. हम जानते हैं कि आज की महिलाएँ निर्भीक हैं, बहादुर हैं और उन्हें अधिक से अधिक संख्या में पुलिस सेवा में आकर व्यवस्था को बदलने का बिगुल बजाना चाहिए. आज पुलिस में शामिल कई महिलाओं ने अपने कामों के बदौलत मीडिया में अच्छी-खासी सुर्खिया बटोरी है. 

शैक्षणिक योग्यता
इंस्पेक्टर/सब-इंस्पेक्टर जैसे पदों के लिए न्यूनतम शैक्षणिक योग्यता किसी भी मान्यताप्राप्त संस्थान से स्नातक की डिग्री है. 
इसके अलावा डॉक्टर, टीचर, नर्स, प्रोफ़ेसर आदि का जॉब तो हमेशा से महिलाओं का पसंदीदा जॉब रहा हीं है 
 
यदि आप अन्य सरकारी नौकरी के लिए पात्रता मापदंड के बारे में विवरण प्राप्त करना चाहते हैं, तो आप Safalta के इन लेखों पर को पढ़  सकते हैं।
UPSC Eligibility Criteria SSC CPO Eligibility Criteria Delhi Police SI Eligibility Criteria 2022
 एसएससी सीजीएल पात्रता मानदंड
SEBI ग्रेड ए परीक्षा पैटर्न 2021 Uttar Pradesh Primary Teacher Salary 2022 RBI Grade B Eligibility Criteria CLAT परीक्षा के लिेए पात्रता मापदंड

Free E Books