Download Safalta App
for better learning

Download
Safalta App

X
Whatsup

नीति निर्देशक तत्वों में संशोधन [Amendment in Directive Principle of State Policy]

Safalta Experts Published by: Blog Safalta Updated Tue, 24 Aug 2021 06:26 PM IST

Highlights

नीति निर्देशक तत्व व मूल अधिकार एक दूसरे के पूरक है, अतः इनमे आपस में कोई विरोध नहीं है, मिनर्वा मिल बनाम भारत संघ 1980 में निर्णीत किया गया कि नीति निर्देशक लक्ष्य है जो प्राप्त किए जाने हैं पर मूल अधिकार वे साधन हैं , जिनके माध्यम से यह प्राप्त किया जाना है।
 

नीति निर्देशक तत्वों में संशोधन
[Amendment in Directive Principle of State Policy]

1) अनुच्छेद 43 क संविधान के 42वें संशोधन अधिनियम से अस्तित्व में आया।
Source: The Public India



2) अनुच्छेद 39 क संविधान के 42वें संविधान संशोधन अधिनियम से अस्तित्व में आया।
3) अनुच्छेद 48क संविधान के 42 वें संशोधन अधिनियम से अस्तित्व में आया।
4) अनुच्छेद 45 प्रतिस्थापित की गई।
5) अनुच्छेद 43 ख संविधान के 97वें संशोधन द्वारा सम्मिलित किया गया।

भारतीय संविधान की संपूर्ण तैयारी के लिए आप हमारे फ्री ई-बुक्स डाउनलोड कर सकते हैं।
 
ग्रेनविल आस्टिन ने नीति निर्देशक तत्वों के महत्व को बताते हुए कहा है "ये संविधान की आत्मा “
नीति निर्देशक तत्वों पर आधारित मामले
 
1) बिहार राज्य बनाम कामेश्वर सिंह AIR 1952 S.C में निर्णित हुआ जमींदारी उन्मूलन लोक प्रयोजन के लिए पारित है, अतः संवेधानिक है।
2) दा केरल एजुकेशन बिल AIR 1953 इसमें कहा गया यद्यपि नीति निर्देशक तत्व मूल आधिकारों पर अभिभावी नहीं हो सकते, तथापि मूल आधिकारों का विस्तार निर्धारण के समय न्यायालय नीति निर्देशक तत्वों की उपेक्षा नहीं करेगें।
3) प्रगति वर्गीज बनाम सिरीज जार्ज वर्गीय AIR 1997 बम्बई में पूर्ण पीठ द्वारा निर्धारित किया गया भारतीय तलाक अधिनियम की धारा 10 अवैध होगा इसलिए एक ईसाई महिला को पति से तलाक लेने के लिए जारकर्म के साथ साथ क्रूरता अधित्यजन को साबित किया जाना अनिवार्य शर्त है।

Free Demo Classes

Register here for Free Demo Classes


 
मूल अधिकार एवं नीति निर्देशक तत्व
 
    नीति निर्देशक तत्व व मूल अधिकार एक दूसरे के पूरक है, अतः इनमे आपस में कोई विरोध नहीं है, मिनर्वा मिल बनाम भारत संघ 1980 में निर्णीत किया गया कि नीति निर्देशक लक्ष्य है जो प्राप्त किए जाने हैं पर मूल अधिकार वे साधन हैं , जिनके माध्यम से यह प्राप्त किया जाना है।

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree