जानिए IMF के बारे में और यह किन क्षेत्रों में काम करता है Know about IMF ,It's objectives and functions

Safalta Experts Published by: Blog Safalta Updated Sat, 30 Oct 2021 05:47 PM IST

अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष ( आईएमएफ) एक ऐसी अंतर्राष्ट्रीय संस्था है जो आर्थिक स्थिति पर अपनी नजर बनाए रखती है और देश के आर्थिक मुद्दों में मदद करती है। इसकी स्थापना जुलाई 1944 में ब्रेटन वुड्स , न्यू हैम्पशायर, यूएस में 44 देशों ने मिलकर की थी, उनमें से एक देश भारत भी था और इसके स्थापना के पीछे का  कारण यह था कि 1939 से 1945 तक विश्व युद्ध हुआ जिससे  विश्व की अर्थव्यवस्था बरबाद हो गई , और ये सभी देशों के लिए एक बहुत बड़ी चुनौती थी ,  देशों की आर्थिक स्थिति बिगड़ जाना किसी भी देश के लिए सही नहीं हैं, सभी देशों की आर्थिक परेशानी दूर करने के लिए इस  संस्था को बनाया गया था। इसमें इस समय कुल 190 सदस्य देश शामिल है। अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) का हेडक्वार्टर वॉशिंगटन , डीसी में स्थिति है। अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) की स्थापना अंतर्राष्ट्रीय आर्थिक निर्माण बनाने के लिए की गई थी।

Source: The Indian Express

इसके अध्यक्ष हैं क्रिस्टलिना जॉर्जीवा। अगर आईएमएफ की उधार क्षमता की बात की जाए तो , आईएमएफ अपने सदस्य देशों को लगभग 1 ट्रिलियन डॉलर उधार देने में सक्षम है। यूक्रेन, पाकिस्तान , ग्रीस आईएमएफ के सबसे बड़े उधारकर्ता देशों में से एक माने जाते है। आईएमएफ के उद्देश्य और कार्य क्या क्या होते है यह इस लेख में बताया गया है ।

Free Demo Classes

Register here for Free Demo Classes

Please fill the name
Please enter only 10 digit mobile number
Please select course
Please fill the email
Something went wrong!
Download App & Start Learning
लेख को अंत तक पढ़े। यदि आप प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे हैं और विशेषज्ञ मार्गदर्शन की तलाश कर रहे हैं, तो आप हमारे करंट अफेयर्स को सब्सक्राइब करे FREE Current Affairs Ebook- Download Now.
 

अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष ( आईएमएफ ) के उद्देश्य

1) अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष को बढ़ावा देना - यदि 2 देशों के बीच मुद्रा को लेकर कोई भी दिक्कत या परेशानी होती है , तो ऐसे में आईएमएफ देशों के बीच मौद्रिक सहयोग करता है।

2) अंतर्राष्ट्रीय व्यापार के संतुलित विकास को सुनिश्चित करना - यदि आईएमएफ को लगता है की विश्व व्यापार संतुलित नही है , तो ऐसे में वह संतुलित करने के कार्य करता है।

3) विनियम दर स्थिरता को सुनिश्चित करना 

4) अंतर्राष्ट्रीय व्यापार को सुविधाजनक बनाना  - यदि  2 देशों के व्यापार में किसी प्रकार की बाधा उत्पन होती है, तो ऐसे में आईएमएफ इसमें मदद करता है।अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष का यह उद्देश्य रहता है कि अंतर्राष्ट्रीय व्यापार को इतना सुविधाजनक बनाए कि 2 देशों के बीच किसी भी प्रकार का व्यापार करने के कोई दिक्कत ना आए।

फ्री मॉक टेस्ट का प्रयास करें- Click Here
 

अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष ( आईएमएफ) के कार्य

1) अंतर्राष्ट्रीय मौद्रिक प्रणाली की निगरानी रखता है - ये देशों के लेन - देन की निगरानी रखता है।

2) सदस्य देशों को भुगतान संतुलन समस्याओं के लिए  लोन प्रदान करना ।

3) तकनीकी सहायता और ट्रेनिंग द्वारा सदस्य देशों की क्षमताओं के विकास , कार्य में मदद करना ।
 
फिल्में जिन्हें मिला ऑस्कर अवार्ड दुनिया के 5 सबसे बड़े राजनीतिक दल भारत में मौजूद थर्मल पावर प्लांट की सूची

प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कैसे करें

अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं की बेहतर तैयारी के लिए उम्मीदवार सफलता के फ्री कोर्स की सहायता भी ले सकते हैं। सफलता द्वारा इच्छुक उम्मीदवार परीक्षाओं जैसें- SSC GD, UP लेखपाल, NDA & NA, SSC MTS आदि परीक्षाओं की तैयारी कर सकते हैं। इसके साथ ही इच्छुक उम्मीदवार सफलता ऐप से जुड़कर मॉक-टेस्ट्स, ई-बुक्स और करेंट-अफेयर्स जैसी सुविधाओं का लाभ मुफ्त में ले सकते हैं।

Free E Books