Sources of Indian Constitution: जानिए यहां भारतीय संविधान के स्रोतों की पूरी जानकारी

Safalta Expert Published by: Blog Safalta Updated Mon, 27 Dec 2021 10:43 PM IST

जब भारत की संविधान सभा ने संविधान बनाने की योजना बनाई, तो संविधान निर्माताओं ने सोचा कि जिन देशों में संविधान पहले ही लिखे जा चुके हैं, उन संविधानों के प्रावधानों का उपयोग भारतीय संविधान के लिए किया जाएं। संविधान निर्माताओं ने अमेरिका, ब्रिटेन और कई अन्य देशों के संविधानों का गहराई से अध्ययन करना शुरू किया। भारतीय परिस्थितियों के अनुरूप उन्हें जो भी प्रावधान उपयुक्त लगे, उन्हें भारतीय संविधान में शामिल किया गया।

भारतीय संविधान का मुख्य स्रोत भारत सरकार अधिनियम, 1935 है। भारतीय संविधान के प्रावधानों का एक बड़ा हिस्सा भारत सरकार अधिनियम, 1935 से लिया गया है, या तो शब्दशः या भारतीयों के अनुसार मामूली बदलाव करके। क्योंकि 1935 का अधिनियम ब्रिटिश शासन द्वारा भारतीयों के लिए बनाया गया था।

संविधान बनाने से पहले, संविधान सभा ने दुनिया के अन्य देशों में बने संविधान का अध्ययन और मूल्यांकन किया। फिर उन सभी विदेशी संविधानों से लिए गए प्रावधानों को भारत देश में अनुकूल परिवर्तन करके भारतीय संविधान में शामिल किया गया। मुख्य रूप से 10 ऐसे विदेशी संविधान हैं जो भारतीय संविधान के विदेशी स्रोत हैं। आइए जानते हैं भारत सरकार अधिनियम, 1935 के साथ-साथ भारतीय संविधान के स्रोत और प्रावधान, जिन्हें विदेशी संविधान से भारतीय संविधान में शामिल किया गया है।
Current Affairs Ebook Free PDF: डाउनलोड करे

भारतीय संविधान के स्रोतों की सूची -

Free Demo Classes

Register here for Free Demo Classes

Please fill the name
Please enter only 10 digit mobile number
Please select course
Please fill the email

Free E Books