Doubt Banner

Digital Marketing, क्या होती है डिजिटल मार्केटिंग और किस तरह आप भी बना सकते है अपना सफल करियर

Safalta Experts Published by: Kanchan Pathak Updated Sat, 06 Aug 2022 10:51 PM IST

Highlights

इंटरनेट और डिजिटल कम्युनिकेशन के भिन्न-भिन्न रूपों का उपयोग करके संभाव्य उपभोगताओं से जुड़ना और अपने ब्रांडों के लिए प्रचार करना हीं डिजिटल मार्केटिंग कहलाता है.

ये डिजिटलाइजेशन का युग चल रहा है. डिजिटल इंडिया कैंपेन के बारे में आप सब ने तो सुन हीं रखा होगा. हर छोटी से लेकर बड़ी सुविधाएँ हमसे सिर्फ एक क्लिक पर दूर हैं. फ़िर चाहे बात ग्रोसरी शौपिंग की हो, बैंकिंग की, समय से हमारे पास मेडिसिन पहुँचने की, ब्लड टेस्ट्स करवाने की, प्रॉपर्टी खरीदने की या फिर वर्क फ्रॉम होम यानि कि घर से ऑफिस करने की. अब तो ई-गवर्नेंस, ई-कोर्ट और ई-पंचायत तक आ चुकी हैं.

Source: safalta

जब सब कुछ हमारे फ़ोन या लैपटॉप से हीं हो जाता है तो मार्केटिंग का तरीका भी बदलना लाज़मी है. इसलिए आजकल डिजिटल मार्केटिंग बहुत तेज़ी से प्रोग्रेस कर रही है. Click here to buy a course on Digital Marketing-  Digital Marketing Specialization Course
 

मार्केटिंग के होते हैं विभिन्न प्रकार

मार्केटिंग के अलग-अलग तरीके होते हैं. जैसे कि डायरेक्ट मार्केटिंग (जो कि मार्केटिंग का पारंपरिक तरीका है), टेली मार्केटिंग, डिजिटल मार्केटिंग, एफिलिएट मार्केटिंग, इन्फ्लुएंसर मार्केटिंग, रिलेशनशिप मार्केटिंग इत्यादि.

Free Demo Classes

Register here for Free Demo Classes

Please fill the name
Please enter only 10 digit mobile number
Please select course
Please fill the email
जो तरीका आजकल सबसे ज्यादा चलन में है वो है डिजिटल मार्केटिंग. इन सभी तरीकों से लोग अपने प्रोडक्ट्स या सर्विसेज की मार्केटिंग हीं करते हैं बस माध्यम बदलता रहता है. पारंपरिक तरीके (जैसे कि डायरेक्ट मार्केटिंग) से की जाने वाली मार्केटिंग ऑफलाइन माध्यम से की जाती है, टेली मार्केटिंग में लोग फ़ोन कॉल के जरिये अपने उत्पादों की जानकारी आप तक पहुंचाते हैं वैसे हीं डिजिटल मध्यम से अपने उत्पादों की जानकारी आप तक पहुँचाना डिजिटल मार्केटिंग कहलाता है.

 

क्या होती है डिजिटल मार्केटिंग

इंटरनेट और डिजिटल कम्युनिकेशन के भिन्न-भिन्न रूपों का उपयोग करके संभाव्य उपभोगताओं से जुड़ना और अपने ब्रांडों के लिए प्रचार करना हीं डिजिटल मार्केटिंग कहलाता है. डिजिटल मार्केटिंग को ऑनलाइन मार्केटिंग भी कहा जाता है. अपने फोन, कंप्यूटर, टैबलेट या अन्य इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस को इस्तेमाल करते वक़्त आपने उस पर आने वाले ऑनलाइन वीडियो, डिस्प्ले विज्ञापन, सर्च इंजन मार्केटिंग, पेड सोशल विज्ञापन या सोशल मीडिया पोस्ट आदि जरुर देखे होंगे. ये सभी डिजिटल मार्केटिंग के मार्केटिंग अभियानों से जुड़े हुए होते हैं. इसमें ईमेल, सोशल मीडिया और वेब-आधारित विज्ञापन हीं नहीं बल्कि मार्केटिंग चैनल के रूप में टेक्स्ट और मल्टीमीडिया संदेश भी शामिल होते है.
 

Digital Marketing, घर बैठे बनाए डिजिटल मार्केटिंग में एक सुनहरा करियर, और कमाए लाखों की सैलरी

 

अलग अलग चैनल होते हैं माध्यम

डिजिटल मार्केटिंग विभिन्न चैनलों के माध्यम से की जाती है जैसे कि वेबसाइट, सोशल मीडिया, वेब एप्लीकेशन, सर्च इंजन, ईमेल, मोबाइल एप्लिकेशन या अन्य किसी भी प्रकार की नई डिजिटल प्रणाली. डिजिटल मार्केटिंग किसी भी प्रोडक्ट या सर्विस की मार्केटिंग की ऐसी शैली है जिसमें इलेक्ट्रॉनिक माध्यम का इस्तेमाल किया जाता है.
 
सामान्य हिंदी ई-बुक -  फ्री  डाउनलोड करें  
पर्यावरण ई-बुक - फ्री  डाउनलोड करें  
खेल ई-बुक - फ्री  डाउनलोड करें  
साइंस ई-बुक -  फ्री  डाउनलोड करें  
अर्थव्यवस्था ई-बुक -  फ्री  डाउनलोड करें  
भारतीय इतिहास ई-बुक -  फ्री  डाउनलोड करें  
 

क्यूँ है डिजिटल मार्केटिंग ज्यादा पॉपुलर

अगर पारंपरिक मार्केटिंग से डिजिटल मार्केटिंग की तुलना की जाए तो निष्कर्ष यह निकलता है कि डिजिटल मार्केटिंग बेहतर है क्यूंकि इसकी 24/7 सर्विस का फायदा उठाते हुए लोग अपनी जरुरत और मूड के हिसाब से घर बैठे कभी भी इस मार्केटिंग तकनीक का उपयोग कर सकते हैं. 

अगर आज की मार्केट कंडीशन की बात करें तो लगभग 80% क्रेता किसी भी प्रोडक्ट या सर्विस को खरीदने के पहले ऑनलाइन रिसर्च जरूर करता है. फ़िर चाहे बात घर खरीदने की हीं क्यों ना हो. हर खरीदारी का पहला स्टेप ऑनलाइन रिसर्च हीं है. तो आज के समय में किसी भी कंपनी, ब्राण्ड या बिज़नेस के लिए डिजिटल मार्केटिंग सर्वाधिक महत्वपूर्ण है.
 

Free E Books