Daily Top  Current Affairs: यहां  15 September के करेंट अफेयर्स हिंदी में पढ़ें।

safalta expert Published by: Chanchal Singh Updated Thu, 15 Sep 2022 05:20 PM IST

Daily Top  Current Affairs: अगर आप भी किसी प्रकार के प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं, तो आपके लिए यह लेख बहुत ही महत्वपूर्ण साबित हो सकता है। इसमें हम आज आपके लिए लाए हैं राष्ट्रीय और अंतराष्ट्रीय स्तर के करंट अफेयर। आपके प्रतियोगी परीक्षा के लिए लाभदायक हो सकता है। इस लेख का एक मात्र उद्देश्य यह है कि इस लेख से ज्यादा से ज्यादा प्रतियोगी परीक्षा के लिए तैयारी कर रहे छात्रों की सहायता करना है। आज के प्रमुख करंट अफेयर के विषय में पढ़ने के लिए नीचे स्क्रोल कीजिए।
 

लोकतंत्र के अंतरराष्ट्रीय दिवस क्यों मनाया जाता है, जाने इसके महत्व एवं थीम के बारे में

 हर साल दुनिया भर में 15 सितंबर को अंतरराष्ट्रीय लोकतंत्र दिवस मनाया जाता है।

Source: Safalta

यह दिन लोकतंत्र के कामकाज में सामुदायिक भागीदारी के महत्व को हाईलाइट करने के लिए मनाया जाता है। इस दिन दुनिया भर में लोगों को लोकतंत्र के विषय, कार्य और प्रोसेस के में संपूर्ण जानकारी और जागरूकता बढ़ाने के लिए मनाया जाता है। संयुक्त राष्ट्र की ऑफिशियल वेबसाइट में कहा गया है कि लोकतंत्र एक लक्ष्य के रूप में प्रोसेस है और केवल अंतरराष्ट्रीय समुदाय, राष्ट्रीय शासी निकायों, नागरिक समाज एवं व्यक्तियों की संपूर्ण भागीदारी सहयोग एवं समर्थन से ही लोकतंत्र के आदर्श को एक आदर्श के रूप में बनाया जा सकता है। 
 

नेशनल ई गवर्नेंस सर्विस लिमिटेड और ई-बीजी क्या है जाने विस्तार से  

 एचडीएफसी बैंक भारत का सबसे बड़ा प्राइवेट बैंक है, इसके साथ ही अब एचडीएफसी बैंक नेशनल e-governance सर्विस लिमिटेड के साथ पार्टनरशिप में इलेक्ट्रॉनिक बैंक गारंटी जारी करने वाला देश का पहला बैंक है।

Free Demo Classes

Register here for Free Demo Classes

Please fill the name
Please enter only 10 digit mobile number
Please select course
Please fill the email
पेपर बेस्ड कामकाज समय लेने वाली प्रक्रिया को नई इलेक्ट्रॉनिक बैंक गारंटी के साथ लाया गया है। जिसे संसाधित, मुद्रांकित, सत्यापित और बढ़ी हुई सुरक्षा के साथ तुरंत ही डिस्ट्रीब्यूट किया जा सकता है। यह एक ट्रांसफॉर्मेटिव चेंज है और बैंक अपने सभी कस्टमर को लाभान्वित करने के लिए ही ई-बीजी में माइग्रेट किया जाएगा।
 

नवरात्रि स्पेशल टूरिस्ट ट्रेन क्या है, जाने इसके बारे में विस्तार से


 इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कारपोरेशन IRCTC वैष्णो देवी कटारा के लिए नवरात्रि स्पेशल टूरिस्ट ट्रेन शुरू करने की बात कही है। IRCTC द्वारा रामायण सर्किट ट्रेन की सफलता के बाद नवरात्रि स्पेशल टूरिस्ट ट्रेन शुरू करने का विचार किया है। भारत गौरव रेक के साथ नवरात्रि स्पेशल टूरिस्ट ट्रेन 30 सितंबर 2022 को कटारा के लिए दिल्ली से चलेगी। इस ट्रेन की यात्रा 4 रात और 5 दिन की होगी यह ट्रेन दिल्ली के सफदरजंग रेलवे स्टेशन से शुरू होगी जिसमें 3 टियर एसी कोच समेत 11 कोच होंगे। इस ट्रेन का गाजियाबाद, मेरठ, मुजफ्फरनगर, सहारनपुर, अंबाला, सरहिंद और लुधियाना के टूरिस्ट लाभ उठा सकते हैं। IRCTC ने नवरात्रि के अवसर पर  तीर्थ यात्रियों को सुविधा देने के लिए इस ट्रेन की शुरुआत करने का फैसला लिया है।

केंद्र सरकार ने किन पांच राज्यों की जनजातियों को अनुसूचित जनजाति में शामिल करने की बात कही है

केंद्र सरकार ने सालों से अपने अधिकारों से वंचित उत्तर प्रदेश, छत्तीसगढ़ और हिमाचल प्रदेश के साथ पांच राज्यों से करीब डेढ़ दर्जन जनजातियों को बुधवार को एक बड़ा इनाम दिया है। इन जनजातियों को अब अनुसूचित जनजाति ST का दर्जा दिया गया है, इसके साथ ही इसके तहत वे कई तरह के लाभ लेने में सक्षम होंगे। वर्तमान में अनुसूचित जनजाति के लिए जिन जातियों को शामिल किया गया है उनमें बिन्जियाह समेत 12 जातियां छत्तीसगढ़ से हैं। हिमाचल प्रदेश से हट्टी और उत्तर प्रदेश के गोंड और उनकी पांच उप जातियों को एसटी में शामिल किया जाएगा।
 

रक्त अमृत महोत्सव क्या है और इसे कब और क्यों लॉन्च किया जाएगा

 प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्म दिवस के अवसर पर 17 सितंबर को रक्तदान अमृत महोत्सव लांच किया जाएगा। इसके लिए आरोग्य सेतु पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन की प्रोसेस शुरू हो गई है। इस महोत्सव में देशभर के सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के लाखों करोड़ों लोगों को शामिल करने की योजना  बनाई गई है। इसके लिए केंद्र सरकार ने ब्लड बैंक पोर्टल की भी शुरुआत किया है इसके अंतर्गत 15 लाख यूनिट ब्लड इकट्ठा करने का लक्ष्य तय किया गया है ।

शून्य अभियान क्या है, जाने इसके महत्व और आवश्यकता के बारे में विस्तार से

नीति आयोग और आर एम आई के द्वारा शून्य अभियान शुरू किया गया है। यह कस्टमर और इंडस्ट्री के साथ मिलकर 0 प्रदूषण वितरण वाहनों यानी जीरो पॉल्यूशन डिलीवरी व्हीकल्स को बढ़ावा देने के लिए सरकार द्वारा शुरू किया गया एक पहल है। आपको बता दें कि साल 1982 में आरएमई स्थापित किया गया एक स्वतंत्र गैर-लाभकारी संगठन है non-profit ऑर्गेनाइजेशन है। 

 

Free E Books