Olympic Boulevard: ओलिंपिक विथी या ओलिंपिक बुलेवार्ड क्या है?

safalta experts Published by: Chanchal Singh Updated Fri, 04 Feb 2022 01:39 PM IST

Highlights

 01 किलोमीटर लंबे इस खंड को  ओलिंपिक विथी या ओलिंपिक बुलेवार्ड के नाम से जाना जाएगा।
02 इस खंड की अनुमानित लंबाई 900 मीटर है। इसे मुकुंदपुर चौक से मॉडल टाउन के पास MCD कॉलोनी तक फैले रोड नंबर 51 पर डेवलप किया जाएगा।

Olympic Boulevard:ओलंपिक चैंपियनों के सम्मान में ओलिंपिक विथी या ओलिंपिक बुलेवार्ड का निर्माण किया जा रहा है  जिसे लोक निर्माण विभाग (PWD)ने उत्तरी दिल्ली में लगभग एक किलोमीटर लंबा खंड समर्पित करने का निर्णय लिया है। इस खंड के जरिए ही ओलिंपिक विजेताओं को सम्मानित किया जाएगा। अगर आप किसी प्रकार के प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं, तो यह लेख आपके लिए महत्वपूर्ण साबित होगा।
 

इस लेख के मुख्य बिंदु 

1.ओलंपिक और पैरा ओलंपिक 2021 में भारत की सफलता का जश्न मनाने के लिए PWD ने ओलंपिक और पैरा ओलंपिक विजेताओं को इस खंड समर्पित करेगा।
2. 01किलोमीटर लंबे इस खंड को  ओलिंपिक विथी या ओलिंपिक बुलेवार्ड के नाम से जाना जाएगा।
3.स्पोर्ट्स-थीम वाला यह खंड हमारे देश में पहली बार बनाया जा रहा है। 
4.मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल द्वारा महत्वाकांक्षी सड़कों के निर्माण की परियोजना के हिस्से के रूप में इसका पुनर्विकास और री-डिजाइन किया जाएगा।
5. इस खंड की अनुमानित लंबाई 900 मीटर है। इसे मुकुंदपुर चौक से मॉडल टाउन के पास MCD कॉलोनी तक फैले रोड नंबर 51 पर डेवलप किया जाएगा।

General Knowledge Ebook Free PDF: डाउनलोड करें

क्या है ओलंपिक विथी या ओलंपिक बुलेवार्ड

ओलंपिक विथी में एक स्पोर्ट्स लुक होगा, जिसमें निम्नलिखित खिलाड़ियों की मूर्तियां शामिल होंगी:
a.भाला फेंक खिलाड़ी और ओलंपिक स्वर्ण पदक विजेता नीरज चोपड़ा
b.बैडमिंटन खिलाड़ी पी.वी. सिंधु
c.बॉक्सर लवलीना बोरघिन
d.पहलवान रवि दहिया
e.भारोत्तोलक मीराबाई चानू
f.पहलवान बजरंग पुनिया।

 शुत्रों के अनुसार इन मूर्तियों की लंबाई 15 से 20 फीट ऊंचा होगा, जिसमें शीट मेटल की मोटाई 2-3 मिमी और एकीकृत प्रकाश व्यवस्था होगी जो उन्हें एक सौंदर्यपूर्ण रूप देगी।
इस स्ट्रेच में सिंथेटिक फाइबर साइकिल ट्रैक, स्क्वाट पुशिंग, साइकिल, क्रॉस ट्रेनर्स के साथ ओपन जिम और अन्य उपकरण भी होंगे।
इसमें बच्चों के खेलने का क्षेत्र भी शामिल है, जिसमें बच्चों के लिए बहु-खेल उपकरण जैसे हेक्सा-क्लाइंबर, स्विंग,  क्रॉली क्लाइंबर, सी-सा और अन्य शामिल हैं।

ओलंपिक बुलेवार्ड क्यों बनाया जाएगा?

ओलंपिक बुलेवार्ड चैंपियनों के सम्मान के लिए बनाया जाएगा। यह भारत सरकार की एक पहल है, जिससे देश के युवा खेलों के प्रति रूची दिखाए और अधिक से अधिक राष्ट्रीय और अंतराष्ट्रीय खेलों में भाग लें।

Current Affairs Ebook Free PDF: 
डाउनलोड करे

Free E Books