Semicon India Conference 2022 : क्या है सेमीकॉन इंडिया सम्मेलन जिसका आयोजन बैंगलोर में किया गया है

safalta experts Published by: Chanchal Singh Updated Sun, 01 May 2022 07:11 PM IST

Highlights

इस सम्मेलन का आयोजन उद्योग संघों के साथ साझेदारी में भारत सेमीकंडक्टर मिशन द्वारा आयोजित किया गया था। 

Semicon India Conference 2022 : हाल ही में, प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने तीन दिवसीय सेमीकॉन इंडिया 2022 सम्मेलन का उद्घाटन किया है, जिसे कर्नाटक के बेंगलुरु में आयोजित किया गया है। इस सम्मेलन का आयोजन उद्योग संघों के साथ साझेदारी में भारत सेमीकंडक्टर मिशन द्वारा आयोजित किया गया था। साथ ही इस  तीन दिवसीय सेमीकॉन इंडिया 2022 सम्मेलन का विषय भारत के अर्धचालक पारिस्थितिकी तंत्र को उत्प्रेरित (catalyze the semiconductor ecosystem) करना  है।  अगर आप प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे हैं और विशेषज्ञ मार्गदर्शन की तलाश कर रहे हैं, तो आप हमारे जनरल अवेयरनेस ई बुक डाउनलोड कर सकते हैं  FREE GK EBook- Download Now.

Source: Safalta

Free Demo Classes

Register here for Free Demo Classes

Please fill the name
Please enter only 10 digit mobile number
Please select course
Please fill the email

 

सम्मेलन का उद्देश्य क्या है?

भारत को सेमीकंडक्टर डिजाइन, निर्माण और प्रौद्योगिकी विकास के लिए एक वैश्विक केंद्र बनाना है, जो भारत सेमीकंडक्टर मिशन के दृष्टिकोण को आगे बढ़ाने में मदद करेगा।

"इंडिया सेमीकंडक्टर मिशन" और "सेमीकॉन इंडिया प्रोग्राम" क्या है?

इंडिया सेमीकंडक्टर मिशन (India Semiconductor Mission (ISM)) डिजिटल इंडिया कॉरपोरेशन के अंतर्गत एक स्वतंत्र व्यापार प्रभाग है, जिसके पास सेमीकंडक्टर पारिस्थितिकी तंत्र के विकास के लिए रणनीति तैयार करने के लिए प्रशासनिक और financial autonomy है। मार्च 2022 में, केंद्रीय मंत्रिमंडल ने भारत में सेमीकंडक्टर और डिस्प्ले मैन्युफैक्चरिंग इकोसिस्टम के विकास के लिए सेमीकॉन इंडिया कार्यक्रम को मंजूरी दी।

Free Daily Current Affair Quiz-Attempt Now with exciting prize


इस मिशन का कुल परिव्यय क्या है?

कुल वित्तीय परिव्यय 76,000 करोड़ रुपये है, जिसका वहन केंद्र सरकार करेगी।

सेमीकॉन इंडिया कार्यक्रम के तहत कौन - कौन सी योजनाएं हैं?

1.सेमीकंडक्टर फैब की स्थापना के लिए योजना।
2.डिस्प्ले फैब की स्थापना के लिए योजना।
3.कंपाउंड सेमीकंडक्टर्स / सिलिकॉन फोटोनिक्स / सेंसर फैब और सेमीकंडक्टर असेंबली, टेस्टिंग, मार्किंग और पैकेजिंग (एटीएमपी) सुविधाओं की स्थापना के लिए योजना
4.डिजाइन लिंक्ड इंसेंटिव (डीएलआई) योजना।

भारत में semiconductor ecosystem की स्थिति क्या है?

भारत के पास दुनिया का सबसे तेजी से बढ़ने वाला स्टार्ट-अप इकोसिस्टम है। भारत में अर्धचालकों की खपत 2030 तक 110 अरब डॉलर को पार करने की उम्मीद है।
  April Month Current Affairs Magazine DOWNLOAD NOW 
 

सेमी-कंडक्टर सप्लाई चैन पर रूस-यूक्रेन युद्ध का क्या प्रभाव है?

रूस-यूक्रेन युद्ध ने नियॉन और हेक्साफ्लोरोबुटाडीन गैसों की आपूर्ति को प्रभावित किया है, जो सेमीकंडक्टर चिप्स के निर्माण के लिए आवश्यक तत्व हैं। यूक्रेन और रूस नियॉन और हेक्साफ्लोरोबुटाडीन गैसों के प्रमुख स्रोत हैं। इस प्रकार, युद्ध के कारण इसकी सप्लाई  पर प्रभाव पड़ा है।

सभी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के लिए इन फ्री बुक्स को डाउनलोड करें

Hindi Vyakaran E-Book-Download Now

Polity E-Book-Download Now

Sports E-book-Download Now

Science E-book-Download Now

Free E Books