भारत में एनबीएफसी की सूची List of NBFC in India

Safalta Experts Published by: Blog Safalta Updated Thu, 04 Nov 2021 08:13 PM IST

भारत में कई तरह के बैंक है एनबीएफसी भी इन बैंक की तरह ही काम करती है पर इसकी कुछ प्रयोजना और बैंकों से अलग है. एनबीएफसी की फुल फॉर्म है Non Banking Financial Company होता है जिसका हिंदी अर्थ गैर बैंकिंग वित्तीय कंपनी होता है। यदि आप प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे हैं और विशेषज्ञ मार्गदर्शन की तलाश कर रहे हैं, तो आप हमारे करंट अफेयर्स को सब्सक्राइब करे FREE Current Affairs Ebook- Download Now.
 
Current Affairs Ebook Free PDF: डाउनलोड करें General Knowledge Ebook Free PDF: डाउनलोड करें

बैंक की तरह काम करने वाली इन गैर-बैंकिंग कंपनियों को दुनियाभर में 'शैडो बैंकिंग सिस्टम'  भी कहते हैं। एनबीएफसी का संचालन कम्पनी एक्ट, 1956 के अंतर्गत किया जाता है. इसमें निवेश भी बैंक की तरह नहीं किया जाता है. NBFC कम्पनी किसी जमा योजना के तहत पहले लोगों का पैसा जमा करती और फिर उन्हें कई तरह के ऋण प्रदान करती है। NBFC का फुल फॉर्म “Non Banking Financial Company” होता है | इसे हिन्दी भाषा में गैर बैंकिंग वित्तीय कम्पनी कहा जाता है | मतलब कि ऐसी कंपनी जो वित्तीय लेंन देन का काम अवश्य करती है, परन्तु यह बैंक कंपनी नहीं होती है, इसके कार्य जरूर बैंक की तरह ही लगते है, परन्तु क़ानूनी रूप से यह बैंक नहीं होती है बल्कि ऐसी फाइनेंस कंपनी होती है जो पैसो के आधार लेन-देन का काम करती है | एनबीएफसी  कम्पनी अचल धन राशि में निवेश करने का काम नहीं करती है, जबकि बैंक चल और अचल दोनों तरह की धन राशि में निवेश करने का काम करती है |

फ्री मॉक टेस्ट का प्रयास करें- Click Here
 
गैर-बैंकिंग वित्तीय संस्थान(non-banking financial institutions) क्या प्रदान करते हैं?
  • गैर-बैंकिंग संस्थान बैंक की तुलना में अधिक जोखिम उठाते हैं, कम या शून्य क्रेडिट स्कोर वाले लोगों को उधार देना।
  • लोन के कुछ प्रकारों के लिए उन्हें सुरक्षा की आवश्यकता नहीं होती।
  • ब्याज और किश्तों की लचीली दरें प्रदान करता है।
  • प्रत्येक लोन के लिए payback की समयावधि भी तय की जा सकती है।
 
गैर-बैंकिंग संस्थानों ने लोन और अन्य बैंकिंग विकल्प प्रदान करने के लिए कई स्तरों पर आरामदायक सुविधा तो दी है पर इसके कुछ किकबैक भी हैं. ये कई बार बहुत अधिक ब्याज की दर वसूलते हैं.

Source: social media

जब ग्राहक के पास कोई विकल्प नहीं होता है जब कोई बैंक उधार देने के लिए तैयार नहीं होता है तो ग्राहक इन गैर-बैंकिंग संस्थानों की जाँच कर सकते हैं। 
 

भारत के कैबिनेट मंत्रियों की सूची

भारत के सभी राष्ट्रीय उद्यान विश्व की दस सबसे लंबी नदियां
भारत के प्रधानमंत्रियों की सूची भारत में बंदरगाहों की सूची उत्तर प्रदेश के कैबिनेट मंत्री
 
NBFCs List Total Income (Rs mn) Rank
पावर फाइनेंस कॉर्पोरेशन लिमिटेड 267377.40 1
ग्रामीण विद्युतीकरण निगम लिमिटेड 224403.10 2
बजाज फाइनेंस लिमिटेड 133292.20 3
श्रीराम ट्रांसपोर्ट फाइनेंस कंपनी लिमिटेड 122768.30 4
भारतीय रेलवे वित्त निगम लिमिटेड 110202.32 5
महिंद्रा एंड महिंद्रा फाइनेंशियल सर्विसेज लिमिटेड 72061.20 6
एचडीबी फाइनेंशियल सर्विसेज लिमिटेड 70619.90 7
मुथूट फाइनेंस लिमिटेड 62432.00 8
चोलामंडलम इन्वेस्टमेंट एंड फाइनेंस कंपनी लिमिटेड 54257.60 9
एलएंडटी फाइनेंस लिमिटेड (पूर्ववर्ती फैमिली क्रेडिट लिमिटेड) 52460.00 10
श्रीराम सिटी यूनियन फाइनेंस लिमिटेड
 
51015.70 11
टाटा कैपिटल फाइनेंशियल सर्विसेज लिमिटेड
 
45553.70 12
आदित्य बिड़ला फाइनेंस लिमिटेड
 
44800.00 13
इंडिया इंफ्रास्ट्रक्चर फाइनेंस कंपनी लिमिटेड
कैपिटल फर्स्ट लिमिटेड
 
38364.40 14
  36282.50 15
रिलायंस कैपिटल लिमिटेड


  कोटक महिंद्रा प्राइम लिमिटेड
33150.00 16
  31946.21 17
मणप्पुरम फाइनेंस लिमिटेड 29498.59 18
आईएफसीआई लिमिटेड
 
27835.40 19
एलएंडटी इंफ्रास्ट्रक्चर फाइनेंस कंपनी लिमिटेड
 
27344.15 20

प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कैसे करें

अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं की बेहतर तैयारी के लिए उम्मीदवार सफलता के फ्री कोर्स की सहायता भी ले सकते हैं। सफलता द्वारा इच्छुक उम्मीदवार परीक्षाओं जैसें- SSC GD, UP लेखपाल, NDA & NA, SSC MTS आदि परीक्षाओं की तैयारी कर सकते हैं। इसके साथ ही इच्छुक उम्मीदवार सफलता ऐप से जुड़कर मॉक-टेस्ट्स, ई-बुक्स और करेंट-अफेयर्स जैसी सुविधाओं का लाभ मुफ्त में ले सकते हैं।

Free E Books