स्वतंत्रता के बाद भारतीय सेना द्वारा लड़े गए प्रमुख युद्ध Major War fought by Indian Army after independence

Safalta Experts Published by: Nikesh Kumar Updated Wed, 20 Oct 2021 06:07 PM IST

सन् 1857 के स्वतंत्रता संग्राम के क्रांति के बाद पूरे देश में बज रही आजादी का बिगुल और तेज हो गया, गांधी, बोस, पटेल जैसे महान क्रांतिकारियों और आंदोलनकारियों द्वारा किया गया आजादी के संघर्ष आखिरकार रंग लाई, और सन् 1947 में अंग्रेजों द्वारा भारत को आजादी देने की घोषणा कर दी है। आजाद होने के बाद ब्रिटिश इंडिया आजाद भारत के नाम से जाने जाना लगा।  यदि आप प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे हैं और विशेषज्ञ मार्गदर्शन की तलाश कर रहे हैं, तो आप हमारे करंट अफेयर्स को सब्सक्राइब करे FREE Current Affairs Ebook- Download Now.
Current Affairs Ebook Free PDF: डाउनलोड करें General Knowledge Ebook Free PDF: डाउनलोड करें

इस आजाद भारत ने आजादी के बाद 5 बड़े युद्ध लड़े जो निम्नवत है-

1. कश्मीरी युद्ध (1948-48) - आजादी के बाद भारत के दो टुकड़े हो गए, एक पाकिस्तान और दूसरा हिंदुस्तान। कश्मीरी युद्ध सन् 1947 से 1948 तक चला, इसके पीछे हिंदुस्तान में बसा वो रियासती जम्मू कश्मीर था, जिसके महाराजा उस समय 'हरी सिंह' थे। पाकिस्तान द्वारा कश्मीर पर अधिग्रहण करने के लक्ष्य से आक्रमण किया गया, जिसके बचाव में भारतीय सेना को पाकिस्तान से युद्ध लड़ना पड़ा। भारतीय सेना,पाक सेना को कश्मीर से बाहर खदेड़ने के कामयाबी के कगार पर थी, तभी पंडित नेहरू के कुछ रणनीतिगत गलतियों के कारण जम्मू कश्मीर में भारतीय सेना को रुकने के बाद कश्मीर के दो टुकड़े हो गए, पहला 'पाक अधिकृत कश्मीर' और दूसरा हिंदुस्तान का पूर्णत मनोनीत कश्मीर। जो अभी तक इसी स्थिति में बनी हुई है।

2. भारत - चीन युद्ध (1962) - यह युद्ध 1962 में हुआ था। इस युद्ध के पीछे चीन की वह गंदी रणनीति थी, जिसके तहत वह भारत चीन बॉर्डर की 'मैकमोहन रेखा' से वापस लौटने की बात स्वीकारी थी, लेकिन «20 जुलाई 1962» को चीनी सेना द्वारा इस बॉर्डर को पार करके तिब्बत को अधिग्रहण कर लिया गया। भारत को ऐसा बिल्कुल अंदाजा नहीं था कि, चीन द्वारा आक्रमण किया जाएगा क्योंकि पंडित नेहरू द्वारा 'भारत चीनी भाई भाई' के नारे पूरे देश में लगवाए जा रहे थे।
इस युद्ध में चीन की ओर से 80000 और भारत की ओर से महज 20000 सैनिक भाग लिए थे, और इसका खामियाजा भारत को भुगतना पड़ा और चीन को विजय प्राप्त हुई।
 

भारतीय क्षेत्र में लड़े गए प्रमुख युद्ध 

भारत के सभी राष्ट्रीय उद्यान विश्व की दस सबसे लंबी नदियां
भारत के प्रधानमंत्रियों की सूची भारत में IIM कॉलेज की सूची  India in Olympic Games


3. भारत - पाक युद्ध(1965) - यह भारत और पाकिस्तान के बीच होने वाला दुसरा बड़ा युद्ध था, जो 1965 में हुआ। भारत पाक के प्रथम युद्ध में कोई निर्णायक नतीजा न निकलने के कारण पाक सेना द्वारा कश्मीर अधिग्रहण के लिए एक बार फिर से आक्रमण कर दिया गया। जिसके मनसूबे को भारतीय सेना सीजफायर का उल्लंघन करके असफल की। इसी युद्ध के बाद भारत-पाक शांति के लिए 'तास्कंद सम्मेलन' आयोजित की गई। इसी सम्मेलन के दौरान देश के प्रधानमंत्री 'लाल बहादुर शास्त्री' की असंदिग्ध तरीके से मौत हुई थी। जो अभी तक रहस्य बना हुआ है।

4. भारत-पाक युद्ध (1971) - यह भारत और पाकिस्तान के बीच होने वाला तीसरा बड़ा युद्ध था। यह युद्ध सन् 1971 में पाकिस्तान के उसी कश्मीर वाले मनसूबे के कारण उत्पन्न हुआ था। इस युद्ध में भारत के तीनों सेनाओं द्वारा पाक सेना को घेरने की कोशिश की गई और भारत की शानदार जीत हुई थी। इस युद्ध के बाद ही 'बांग्लादेश' का जन्म हुआ।

फ्री मॉक टेस्ट का प्रयास करें- Click Here

5. कारगिल युद्ध - यह युद्ध सन् 1999 में हुआ था। इस युद्ध का मुख्य कारण 'पाकिस्तानी सेना और कश्मीर में बसे पाक उग्रवादियों' द्वारा भारतीय सीमा में बार बार घुसपैठ करना था। इस युद्ध में पाक थल सेना द्वारा 'ऑपरेशन बद्र' और भारतीय थल सेना द्वारा 'ऑपरेशन विजय' शुरू किया गया था। इसके अलावा भारतीय वायु सेना ने 'ऑपरेशन सफेद सागर' शुरू की थी, जिसकी इस युद्ध को जीतने में मुख्य भूमिका रही थी। और अंततः «11 जुलाई 1999» को प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेई द्वारा इस युद्ध में भारत की विजय की घोषणा कर दी गई।

प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कैसे करें

अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं की बेहतर तैयारी के लिए उम्मीदवार सफलता के फ्री कोर्स की सहायता भी ले सकते हैं। सफलता द्वारा इच्छुक उम्मीदवार परीक्षाओं जैसें- SSC GD, UP लेखपाल, NDA & NA, SSC MTS आदि परीक्षाओं की तैयारी कर सकते हैं। इसके साथ ही इच्छुक उम्मीदवार सफलता ऐप से जुड़कर मॉक-टेस्ट्स, ई-बुक्स और करेंट-अफेयर्स जैसी सुविधाओं का लाभ मुफ्त में ले सकते हैं

Source: social media

Free E Books