UP Board Exam 2022: अब नए पैटर्न पर होगी यूपी बोर्ड परीक्षा, जानिए क्या-क्या हुआ है बदलाव

Safalta Experts Published by: Nikesh Kumar Updated Fri, 29 Apr 2022 10:22 PM IST

उत्तर प्रदेश में बोर्ड परीक्षा का आयोजन माध्यमिक शिक्षा परिषद द्वारा करवाया जाता है, इस वजह से बोर्ड परीक्षा इसके लिए सभी नियम और सिलेबस माध्यमिक शिक्षा परिषद द्वारा ही तय किए जाते हैं। इस साल उत्तर प्रदेश में बोर्ड परीक्षा का आयोजन 24 मार्च से 20 अप्रैल के बीच करवाया गया था और इसके अलावा इस साल हुए बोर्ड परीक्षा में कोविड-19 के कारण सिलेबस में 30 परसेंट कटौती की गई थी। यह कटौती खाली इस वर्ष के लिए करी गई थी क्योंकि छात्रों ने 2021-22 के सत्र में अपने अधिकतर पढ़ाई ऑनलाइन मोड में करी थी और परीक्षा का आयोजन ऑफलाइन मोड में करवाया गया था। सिलेबस में बदलाव के साथ साथ वर्ष 2022-23 के सेशन के लिए उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद कई तरह के बदलाव करने जा रहा है जिसके बारे में सभी छात्रों को पता होना चाहिए। अगर आप भी 9वीं से 12वीं किसी कक्षा में है तो एक्सपोर्ट टीचर से ऑनलाइन कोचिंग लेने के लिए सफलता का स्मार्ट कोर्स ज्वाइन कर सकते हैं- Join now 

क्या हुआ है यूपी बोर्ड परीक्षा पैटर्न में बदलाव

उत्तर प्रदेश दसवीं और बारहवीं बोर्ड परीक्षा में उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद एक बहुत ही बड़ा बदलाव करने जा रहा है। यूपी में अगले वर्ष यानी कि 2023 में होने वाली दसवीं बोर्ड परीक्षा में 30% प्रश्न मल्टीपल चॉइस टाइप के प्रश्नों पर आधारित होंगे। उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद के सेक्रेटरी ने बताया है कि इन 30% प्रश्नों के उत्तर देने के लिए छात्र को परीक्षा में ओएमआर शीट दी जाएगी। इस फॉर्मेट का इस्तेमाल आयोग केवल नौवीं कक्षा की परीक्षाओं के लिए पहले करता था लेकिन अब इसका इस्तेमाल दसवीं बोर्ड परीक्षा में भी किया जाएगा। 

Source: Safalta

Free Demo Classes

Register here for Free Demo Classes

Please fill the name
Please enter only 10 digit mobile number
Please select course
Please fill the email


ये भी पढ़ें 
यूपी बोर्ड 10वीं सिलेबस
यूपी बोर्ड 12वीं सिलेबस


10वीं बोर्ड के अलावा मीडिया रिपोर्ट में यह भी कहा जा रहा है कि इस फॉर्मेट का इस्तेमाल 2025 से 12 वीं बोर्ड परीक्षा में भी किया जा सकता है। आयोग नवी और ग्यारहवीं के छात्रों के लिए इंटर्नशिप प्रोग्राम शुरू करने की बात भी कह रहा है, इसके पीछे का उद्देश्य आयोग का छात्रों को जॉब मार्केट के बारे में सिखाना है। एक्सपर्ट्स का कहना है कि केंद्र सरकार की नई शिक्षा नीति के तहत उत्तर प्रदेश सरकार स्कूली शिक्षा में यह बड़े बदलाव करने का सोच रही है। 

कब आएगा इस साल में बोर्ड परीक्षा का रिजल्ट

इस साल भी बोर्ड परीक्षा की उत्तर कुंजी की चेकिंग पूरे उत्तर प्रदेश के अलग-अलग जिलों में करवाई जा रही है इसके लिए आयोग ने 200 से अधिक चेकिंग सेंटर का निर्माण किया है। इस साल बोर्ड परीक्षा के रिजल्ट मई महीने के अंत तक जारी किए जा सकते हैं, लेकिन आयोग ने अभी रिजल्ट को लेकर किसी भी तरह की डेट जारी नहीं की है। सभी प्रकार के अपडेट जानने के लिए आप को माध्यमिक शिक्षा परिषद की आधिकारिक वेबसाइट पर नजर बनाए रखनी चाहिए और माध्यमिक शिक्षा परिषद के ऑफिशियल ट्विटर अकाउंट को भी फॉलो करना चाहिए क्योंकि आयोग अक्सर अपने अपडेट सोशल मीडिया हैंडल के जरिए भी  छात्रों तक पहुंचाता है। 

यूपी बोर्ड परीक्षा में छात्रों को दिए जाएंगे बोनस अंक
 

9वीं से 12वीं कक्षा की तैयारी कैसे करें

अगर आप नौवीं से बारहवीं तक किसी भी कक्षा में है, चाहे तो किसी भी बोर्ड से बेहतर तैयारी के लिए उम्मीदवार  सफलता ऐप को डाउनलोड कर सकता है जहां पर छात्र को क्वालिटी टीचर से पढ़ने का मौका मिलेगा और साथ ही परीक्षा की तैयारी के लिए विभिन्न प्रकार की फ्रीबुक भी मुहैया कराई जाएगी। 



 

Free E Books