भारत में मनाए जाने वाले लोकप्रिय राष्ट्रीय पर्व Popular National Festivals Celebrated in India

Safalta Experts Published by: Nikesh Kumar Updated Tue, 02 Nov 2021 03:23 PM IST

भारत विभिन्न जाति,धर्म संप्रदायों और सांस्कृतिक वाला देश है, यहाँ पर अनेक प्रकार सांस्कृतिक और पारंपरिक विविधिताएं है, जिसके कारण से यहां पर  अनेक प्रकार से त्यौहार मनाया जाते है, वैसे पूरे देश में सौ से अधिक छोटे बड़े जातिगत और पारंपरिक त्यौहार मनाए जाते है जिसमे से 36 ऐसे त्यौहार है जिसे लोकप्रियता के आधार पर राष्ट्रीय त्यौहार के सूची में रखा जाता है। यदि आप प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे हैं और विशेषज्ञ मार्गदर्शन की तलाश कर रहे हैं, तो आप हमारे करंट अफेयर्स को सब्सक्राइब करे FREE Current Affairs Ebook- Download Now.
 
Current Affairs Ebook Free PDF: डाउनलोड करें General Knowledge Ebook Free PDF: डाउनलोड करें

• राष्ट्रीय पर्वों की विवरण निम्नलिखित है–

1. दीवाली - दीवाली भारत की राष्ट्रीय पर्व है, इसे दीप मालाओं की त्यौहार भी कहा जाता है। इसे हिंदुओं को सबसे बड़ी त्यौहार माना जाता है। इस त्यौहार को भगवान राम और माता सीता के 14 वर्ष के उपरांत अपनी नगरी अयोध्या में लौटने की खुशी में मनाया जाता है। दीवाली की तारीख हर वर्ष अक्टूबर मध्य और नवंबर मध्य के बीच होता है।

2. होली - होली भारत की एकमात्र रंगों वाली त्यौहार है। यह त्यौहार की देश की एक ऐसा पर्व है, जिसे हिंदू, मुस्लिम , सिख और ईसाई हर एक धर्म के लोग एक साथ मिलकर मनाते है। यह देश की सौहार्द और एकता का पर्व माना जाता है। दीवाली हर वर्ष मार्च के महीने में होता है।

3. दशहरा - दशहरा भारत की एक बड़ी राष्ट्रीय पर्व है। इसे भी हिंदुओं की एक खास त्यौहार में से एक माना जाता है, इसे देश में हर साल बुराई पर अच्छाई की जीत के लिए मनाया जाता है। इसका प्रमाण रामलीला के मैदान में रावण पुतले के दहन करने से देखने को मिलता है। दशहरा हर साल नवरात्रि के दशमी वाले दिन अक्टूबर के महीने में मनाया जाता है।

4. नवरात्रि - नवरात्रि भारत का एक ऐसा पर्व है, जिसमे मां दुर्गा के नौ देवियों की अराधना की जाती है। नौ दिन चलने वाली इस पर्व का देश में सबसे ज्यादा उत्साह गुजरात, बंगाल और महाराष्ट्र जैसे राज्यों में देखने को मिलता है। नवरात्रि हर साल अक्टूबर महीने में होता है।

5. दुर्गा पूजा - दुर्गा पूजा, नवरात्रि के दौरान होने वाली मां दुर्गा की पूजा से जुड़ी होती है। इस पर्व पर नवरात्रि के पूजा करने वाले लोग नौ दिन का उपवास भी ग्रहण करते है। दुर्गा पूजा का भव्य समारोह देश के राज्य बंगाल में सबसे ज्यादा देखने को मिलता है।

6. कृष्ण जन्माष्टमी- यह भारत के राष्ट्रीय पर्वों में से एक है, इस पर्व महत्व सीधे भगवान कृष्ण के उपासकों से जुड़ा होता है, क्योंकि इस पर्व पर कृष्ण के जन्म और बाल्यवर्षों को दिखलाया जाता है। यह कृष्ण की नगरी मथुरा और वृंदावन में ज्यादा उत्साह के साथ मनाया जाता है, यह हर वर्ष मध्य अगस्त और मध्य सितंबर के बीच होता है।
 

भारत में बांधों की सूची

भारत के सभी राष्ट्रीय उद्यान विश्व की दस सबसे लंबी नदियां

भारत रत्न पुरस्कार विजेताओं की सूची (1954-2021)

भारत में सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों की सूची जानिए पश्चिम बंगाल के मुख्यमंत्रियों की पूरी सूची


7.

Source: amarujala

गणेश चतुर्थी - गणेश चतुर्थी  ऐसा त्यौहार है, जिसे लोग सार्वजनिक जगहों को अलावा ज्यादा  अपने घरों में भी स्थापित करते है। यह 11 दिनों तक चलने वाली लंबी पर्वों में से एक माना जाता है, लोग दस दिन की अराधना करने के बाद ग्यारहवें दिन भगवान गणेश की विसर्जन कर देते है। गणेश चतुर्थी महाराष्ट्र और आंध्रप्रदेश में ज्यादा उत्साह के साथ मनाया जाता है। यह हर वर्ष सितंबर महीने में होता है।

8. गुरुपर्व - गुरुपर्व देश में बसे सिक्खों का सबसे बड़े त्यौहारों में से एक है। इस दिन गुरुद्वारे और घरों को दीपो से सजाया जाता है। यह पर्व हर वर्ष नवंबर के महीने में मनाया जाता है।

9. रक्षा बंधन - रक्षा बंधन भी भारत का राष्ट्रीय पर्व है। यह त्यौहार भाई और बहन के बीच बने प्रेम और अटूट विश्वास का प्रतीक होता है। इसे हर वर्ष अगस्त वाले श्रावण महीने में मनाया जाता है।

10.

Free Demo Classes

Register here for Free Demo Classes

Please fill the name
Please enter only 10 digit mobile number
Please select course
Please fill the email
Something went wrong!
Download App & Start Learning
ईद उल फितर - यह भारत ने बसे मुस्लिम धर्म के लोगों का सबसे बड़ा पर्व होता है। इस दिन पर मुस्लिम धर्म के लोग सभी कपट को त्यागकर एक दूसरे को गले लगाते है। भारत में इसकी दर्जा दीवाली और होली जैसे बड़े त्यौहारों के साथ की जाती है।

11. बीहू - यह उत्तर पूर्वी भारत में मनाया जाने वाले खास पर्वों में से एक है। खासकर असम के लोग इस पर्व को फसल की कटाई और उसके बाद नए फसलों को बोआई के खुशी में मनाते है। हर वर्ष यह पर्व अप्रैल के महीने में मनाया जाता है।

12. हेमिस - हेमिस लद्दाख का सबसे बड़ा त्यौहार होता है, जिसे देखने के लिए लाखों की तादाद में भीड़ एकत्रित होती है। इसे पद्मसंभवा (नैतिक नेता) के जन्म के उपलक्ष में इसे मनाया जाता है। हर वर्ष यह त्यौहार मध्य जून और मध्य जुलाई के बीच होता है।

13. ओणम - ओणम भारत का राष्ट्रीय पर्व है, इस त्यौहार को राजा महाबली को अपने गृह नगर वापस लौटने की खुशी में मनाया जाता है। इसे खासकर केरल में सभी समुदायों द्वारा मनाया जाता है। हर वर्ष यह पर्व अगस्त के महीने में होता है।

14. पोंगल - यह दक्षिण भारत के चार दिनों तक चलने वाली सबसे बड़ी त्यौहार है। इस त्यौहार की विशेषता राज्य में होने वाली पहली फसल की उपज पर प्राकृत की धन्यवाद देने से होता है। हर वर्ष इस त्यौहार को जनवरी के महीने में मनाया जाता है।

फ्री मॉक टेस्ट का प्रयास करें- Click Here

15. क्रिसमस - क्रिसमस ईसाइयों का सबसे बड़ा पर्व होता है, इसे लॉर्ड जीसस के जन्मदिवस के अवसर पर मनाया जाता है। हर वर्ष यह पर्व 25 दिसंबर को होता है।

16. ईस्टर - ईस्टर भी ईसाई धर्म के लोगो के द्वारा ही मनाया जाता है, इसे दक्षिण भारत में ज्यादे लोग मनाते है। यह पर्व अप्रैल के महीने में होता है

17. बैशाखी - बैशाखी सिक्खों द्वारा मनाया जाने वाला एक पर्व होता है, जिसे रबी के फसलों के कटाई के खुशी में मनाया जाता है। हर वर्ष यह पर्व अप्रैल के महीने में होता है।

18. मकर संक्रान्ति- मकर संक्रांति उत्तर भारत में मनाए जाने वाला एक राष्ट्रीय पर्व है। यह नए साल के शुरुवात में मनाए जाने वाला पहला राष्ट्रीय पर्व है, जिसे 14 जनवरी को मनाया जाता है।

19. महाशिवरात्रि - यह पर्व भगवान शिव को अर्पित सबसे बड़ा पर्व होता है, इसे भारत के साथ साथ नेपाल में भी मनाया जाता है। हर वर्ष यह पर्व मध्य फरवरी और मध्य मार्च के महीने के बीच होता है।

20. बसंत पंचमी - बसंत पंचमी भारत का राष्ट्रीय पर्वों में से एक है। इस दिन मां सरस्वती की पूजा भी की जाती है। हर वर्ष यह त्यौहार फरवरी के महीने में मनाया जाता है।

21. महावीर जयंती - महावीर जयंती जैन धर्म के लोगों का सबसे बड़ा पर्व होता है, खासकर यह पर्व गुजरात और राजस्थान में अधिकतर मनाया जाता है। इस दिन लोग भगवान महावीर के जन्म अराधना कर,  अप्रैल के महीने में मनाते हैं।

22. उगड़ी- यह भारत के प्रसिद्ध त्यौहार मे से एक है, इसे दक्षिण भारत में मनाया जाता है। हर वर्ष यह पर्व अप्रैल के महीने में होता है।

23. छठ पूजा - छठ पूजा भारत के राष्ट्रीय पर्वों में से एक है, यह पर्व लगातार चार दिनों तक मनने वाली एक बड़ी पर्व होती है। इस पर्व पर भगवान सूर्य देव की अराधना की जाती है। छठ की उत्पति बिहार से मानी जाती है। हर वर्ष यह पर्व दीवाली के बाद नवंबर के महीने में होता है।

24. गोवर्धन पूजा - गोवर्धन पूजा दीवाली के अंतिम दिन मनने वाली पूजा होती है, इस दिन ऐसा माना जाता है कि भगवान कृष्ण, इंद्र को हराए थे। यह पर्व भी दीवाली पर्व के ही महीने में मनाई जाती है।

25. गुडी पड़वा यह पर्व महाराष्ट्र में मनाई जाने वाली सबसे बड़ी फसली त्यौहार है, इस दिन लोग रंगोली भी बनाते है। इस दिन लोग अपने अपने घरों पर आम और नीम के पत्तियों को मुख्य द्वार पर लटकाते है।  यह पर्व भी अप्रैल के महीने में मनाया जाता है।

26. गणतंत्र दिवस - गणतंत्र दिवस भारत का सबसे बड़े राष्ट्रीय पर्वों में से एक है, इस दिन का महत्व देश में संविधान को लागू करने से जुड़ा होता है। यह हर वर्ष 26 जनवरी को मनाया जाता है।

27. स्वतंत्रता दिवस - गणतंत्र के भाति ही यह भी देश का राष्ट्रीय पर्व है। देश के आजादी को याद करने के लिए इसे हर वर्ष 15 अगस्त को मनाया जाता है।

28. कुंभ मेला - यह भारत के सबसे बड़े धार्मिक मेलों में से एक है, जिसे राष्ट्रीय पर्व के सूची में रखा जाता है। हर वर्ष यह त्यौहार जनवरी के महीनों में शुरू होता है। इसके अतरिक्त

29. ऊट त्यौहार - यह त्यौहार उटों और इसके व्यापारियों को याद करने के लिए मनाया जाता है, जो हर वर्ष जनवरी के महीने में होता है।

फ्री मॉक टेस्ट का प्रयास करें- Click Here

30. लोसर यह लद्दाख, अरुणाचल प्रदेश और तिब्बतियों द्वारा मनाए जाने वाला त्यौहार है। इसे भी फसली त्यौहार के सूची में रखा जाता है। हर वर्ष यह पर्व फरवरी के महीने में होता है।

31. होर्नविल त्यौहार - यह नागालैंड के प्रजातियों के द्वारा मनाया जाने वाला एक त्यौहार है, जिसे भारत में रह रही प्रजाति समूहों को आगे बढ़ाने और प्रोत्साहित करने के लिए मनाया जाता है। हर वर्ष यह पर्व दिसंबर के महीने में होता है।

32. मेवाड़ - मेवाड़ त्यौहार हर वर्ष बसंत ऋतु के आगमन पर मनाया जाता है, यह पर्व खासकर राजस्थान के उदयपुर मे मनाया जाता है। यह त्यौहार हर वर्ष मध्य मार्च और मध्य अप्रैल के बीच होता है।

33. बुद्ध जयंती - बुद्ध जयंती भारत का राष्ट्रीय पर्व है, इस दिन पर बौद्ध धर्म के उपासक सफेद वस्त्र धारण करके भगवान बुद्ध की पूजा करते हैं। हर वर्ष यह पर्व मई के महीने में मनाया जाता है।

34  त्रिसूर पुरम - यह पर्व दक्षिण भारत के वद्दाकुनाथन मंदिर के चारों तरफ दस मंदिरों के स्थापना के अवसर पर मनाया जाता है। हर वर्ष यह पर्व अप्रैल के महीने में मनाया जाता है।

35. रथ यात्रा - यह ओडिशा के सबसे बड़े पर्वों में से एक है। इसे भगवान जगन्नाथ के अराधना के लिए मनाया जाता है। हर वर्ष यह पर्व जुलाई के महीने में होता है।

36. द्री- यह अरुणाचल प्रदेश का एक फसली त्यौहार है, जिसे नए फसलों के बुआई के खुशी में मनाया जाता है। हर वर्ष यह पर्व अप्रैल और मई के महीने मे होता है।

प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कैसे करें

अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं की बेहतर तैयारी के लिए उम्मीदवार सफलता के फ्री कोर्स की सहायता भी ले सकते हैं। सफलता द्वारा इच्छुक उम्मीदवार परीक्षाओं जैसें- SSC GD, UP लेखपाल, NDA & NA, SSC MTS आदि परीक्षाओं की तैयारी कर सकते हैं। इसके साथ ही इच्छुक उम्मीदवार सफलता ऐप से जुड़कर मॉक-टेस्ट्स, ई-बुक्स और करेंट-अफेयर्स जैसी सुविधाओं का लाभ मुफ्त में ले सकते हैं।

Free E Books