Top 10 Nuclear Power Plants in the World: दुनिया के शीर्ष 10 परमाणु ऊर्जा संयंत्र

Safalta Experts Published by: Nikesh Kumar Updated Sat, 04 Jun 2022 10:55 PM IST

परमाणु ऊर्जा, कम कार्बन वाली बिजली का उत्पादन करने का दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा स्रोत है. वर्त्तमान में सम्पूर्ण विश्व में कुल मिलाकर 449 परमाणु ऊर्जा संयंत्र हैं जो दुनिया की लगभग 11% ऊर्जा की आपूर्ति करते हैं. तो आइये जानते हैं कि ये संयंत्र हैं कहाँ ?
  • विश्व में सबसे अधिक परिचालित परमाणु संयंत्र संयुक्त राज्य अमेरिका में हैं. इनकी कुल संख्या 96 है, साथ हीं उनकी क्षमता 97,565 मेगावाट है, और पिछले वर्ष यहाँ की परमाणु ऊर्जा ने देश की बिजली उत्पादन का लगभग 20% उत्पादित किया.
  • फ्रांस में कुल 58 परमाणु ऊर्जा संयंत्र हैं, जो देश की लगभग 75% बिजली का उत्पादन करते हैं. हालाँकि फ्रांस ने कहा है कि वह 2035 तक इस मात्रा को 50% तक कम कर देगा.
  • चीन में कुल 48 परमाणु ऊर्जा संयंत्र हैं,
  • जापान में 37 और
  • रूस में कुल 36 परमाणु ऊर्जा संयंत्र हैं. 
अगर आप प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे हैं और विशेषज्ञ मार्गदर्शन की तलाश कर रहे हैं, तो आप हमारे जनरल अवेयरनेस ई बुक डाउनलोड कर सकते हैं  FREE GK EBook- Download Now. / GK Capsule Free pdf - Download here
May Month Current Affairs Magazine DOWNLOAD NOW
Indian States & Union Territories E book- Download Now


परमाणु संयंत्रों की संख्या के आधार पर शीर्ष पांच देशों में संयुक्त राज्य अमेरिका, फ्रांस, चीन, जापान और रूस शामिल हैं.

जानिए भारत में परमाणु ऊर्जा संयंत्रों की सूची

क्षमता के आधार पर दुनिया के शीर्ष 10 परमाणु ऊर्जा संयंत्र –

1. काशीवाजाकी-करिवा परमाणु ऊर्जा संयंत्र - जापान का काशीवाजाकी-करिवा परमाणु ऊर्जा संयंत्र (एनपीपी) की कुल क्षमता 7,965MW है, जो कि इसे दुनिया का सबसे बड़ा परमाणु ऊर्जा संयंत्र होने का खिताब देता है. शहर की राजधानी से लगभग 220 किमी दूर, निगाता प्रान्त में काशीवाजाकी-करिवा संयंत्र में सात से अधिक उबलते पानी के रिएक्टर (बीडब्ल्यूआर) हैं. उनमें से पांच की कुल क्षमता 1,100MW है, जबकि नवीनतम दो की 1,356MW है.
टोक्यो इलेक्ट्रिक कंपनी (TEPCO) के स्वामित्व में इसने 1985 में पहला वाणिज्यिक संचालन दर्ज किया. काशीवाजाकी-करिवा परमाणु ऊर्जा की स्थापना लागत 70 बिलियन येन बताई जाती है. देश को समय-समय पर प्रभावित करने वाले भूकंपों के कारण कंपनी को आंशिक रूप से बंद भी किया गया था.

2. ब्रूस न्यूक्लियर जनरेटिंग स्टेशन - कनाडा के गौरव, ब्रूस न्यूक्लियर जनरेटिंग स्टेशन (न्यूक्लियर पावर प्लांट) की कुल क्षमता 6,234MW है. ब्रूस पावर द्वारा संचालित, यह दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा परमाणु ऊर्जा संयंत्र है जिसमें 8 दबाव वाले भारी पानी रिएक्टर (पीएचडब्लूआर) हैं जो इसे संचालित करते हैं. ओंटारियो विद्युत उत्पादन (ओपीजी) के स्वामित्व वाले इस पीएचडब्ल्यूआर की क्षमता 786 मेगावाट से 891 मेगावाट तक है. यह कनाडा का पहला परमाणु रिएक्टर है और इसकी लागत लगभग 2.4 बिलियन सीएडी है.
 
May Month Current Affairs Magazine DOWNLOAD NOW  

3. शिन कोरी परमाणु ऊर्जा संयंत्र -कोरिया हाइड्रो एंड न्यूक्लियर पावर के स्वामित्व वाला शिन कोरी न्यूक्लियर पावर प्लांट 6,040MW की सकल क्षमता के साथ तीसरे स्थान पर आता है.
इसे सन् 1978 में बुसान, दक्षिण कोरिया के पास शुरू किया गया था. यह दक्षिण कोरिया देश का पहला परमाणु रिएक्टर था. इसमें कुल 8 रिएक्टर हैं.

4. हनुल परमाणु ऊर्जा संयंत्र -5,928MW की क्षमता वाला हनुल नुक्लेअर पॉवर प्लांट विश्व का चौथा सबसे बड़ा परमाणु ऊर्जा संयंत्र है. इसे पहले उलचिन परमाणु ऊर्जा संयंत्र के रूप में जाना जाता था, 2013 में इसका नाम उलचिन से बदलकर हनुल परमाणु ऊर्जा संयंत्र कर दिया गया. इस संयंत्र में छह दबाव वाले पानी रिएक्टर (पीडब्लूआर) शामिल हैं. इसे 1988 में व्यावसायिक रूप से संचालित किया गया था और 2012 में इसने अपना दूसरा चरण पूरा किया. कोरियाई इसे अपने देश का गौरव मानते हैं, क्योंकि यह सभी कोरियाई-निर्मित घटकों का उपयोग करने वाला पहला संयंत्र था.
 
सामान्य हिंदी ई-बुक -  फ्री  डाउनलोड करें  
पर्यावरण ई-बुक - फ्री  डाउनलोड करें  
खेल ई-बुक - फ्री  डाउनलोड करें  
साइंस ई-बुक -  फ्री  डाउनलोड करें  
अर्थव्यवस्था ई-बुक -  फ्री  डाउनलोड करें  
भारतीय इतिहास ई-बुक -  फ्री  डाउनलोड करें  


5. हैनबिट परमाणु ऊर्जा संयंत्र -शीर्ष 10 देशों की सूची में जगह बनाने वाली एक अन्य कोरियाई एनपीपी हैनबिट नुक्लेअर पॉवर प्लांट है. पहले इसे योंगग्वांग एनपीपी के रूप में जाना जाता था. हैनबिट की स्थापित कुल क्षमता 5,899MW है, जो इसे दुनिया में पांचवां सबसे बड़ा परमाणु ऊर्जा संयंत्र बनाती है. यह संयंत्र भी दक्षिण कोरियाई कंपनी कोरिया हाइड्रो एंड न्यूक्लियर पावर के स्वामित्व में है. हैनबिट एनपीपी में 6 पीडब्लूआर शामिल हैं.

6. ज़ैपसोरिज़िया परमाणु ऊर्जा संयंत्र -5,700MW की कुल क्षमता के साथ, यूक्रेन का ज़ैपसोरिज़िया परमाणु ऊर्जा संयंत्र सूची में अगले स्थान पर है. यूक्रेन राज्य द्वारा संचालित नेशनल न्यूक्लियर एनर्जी जनरेटिंग कंपनी (एनर्जोएटॉम) के स्वामित्व और संचालन में, हाल ही में, ज़ैपसोरिज़िया परमाणु ऊर्जा संयंत्र के नवीनीकरण की एक श्रृंखला घोषित की गयी थी. जिससे कि 2027 तक इस संयंत्र को 10 साल के जीवन विस्तार के लिए इसे सक्षम बना देगा. इस संयंत्र में 950 मेगावाट की क्षमता वाली छह पीडब्लूआर इकाइयां हैं. यह यूरोप का सबसे बड़ा नुक्लेअर पॉवर प्लांट (एनपीपी) है.

Polity E Book For All Exams Hindi Edition- Download Now

7. ग्रेवलाइन्स न्यूक्लियर पावर प्लांट -फ़्रांसीसी विद्युत उपयोगिता कंपनी lectricité de France (EDF) के स्वामित्व वाला, ग्रेवलाइन्स परमाणु ऊर्जा संयंत्र 5,460MW की शुद्ध क्षमता के साथ दुनिया में सातवाँ सबसे बड़ा परमाणु संयंत्र है. फ्रांसीसी तट पर डोवर से 48 किलोमीटर दूर स्थित इस नुक्लेअर पॉवर प्लांट में छह 900MW क्षमता वाली PWR इकाइयाँ हैं, जिन्हें 1980 में कमीशन किया गया था. यह संयंत्र लगभग 5.9% फ्रांसीसी बिजली उत्पादन करता है.

8. पलुएल परमाणु ऊर्जा संयंत्र -पलुएल परमाणु ऊर्जा संयंत्र, इलेक्ट्रिकिट डी फ्रांस (ईडीएफ) के स्वामित्व वाली एनपीपी (नुक्लेअर पॉवर प्लांट) है, जो 5,528MW की सकल स्थापित क्षमता वाला संयंत्र है. फ्रांस के इंग्लिश चैनल तट से लगभग 40 किमी दूर स्थित यह संयंत्र देश का दूसरा सबसे बड़ा परमाणु संयंत्र है. इसमें चार 1,300MW वर्ग के दबाव वाले पानी के रिएक्टर हैं, जो सालाना फ्रांस के बिजली ग्रिड में लगभग 32 बिलियन किलोवाट-घंटे की बिजली आपूर्ति करते हैं.

9. होंग्यानहे परमाणु ऊर्जा संयंत्र, चीन -होंग्यानहे परमाणु ऊर्जा संयंत्र तटीय शहर डालियान, लिओनिंग प्रांत के पास, डोंगगांग में स्थित है. इसमें 4,476MW (प्रत्येक 1,119MW) की सकल स्थापित क्षमता और 4,244MW (1,061MW प्रत्येक) की कुल डिजाइन क्षमता के साथ चार परिचालन PWR इकाइयां हैं.

होंग्यानहे वर्तमान में चीन में दूसरी सबसे बड़ी परमाणु ऊर्जा सुविधा के रूप में और दुनिया में दसवें सबसे बड़े स्थान पर है. साइट पर वर्तमान में निर्माणाधीन दो और 1,000MW PWR इकाइयाँ क्रमशः 2019 और 2021 के अंत में ऑनलाइन आने वाली हैं. होंग्यानहे संयंत्र का स्वामित्व और संचालन लियाओनिंग होंग्यानहे न्यूक्लियर पावर (एलएचएनपी) द्वारा किया जाता है, जो सीजीएनपीसी (45%), चाइना पावर इन्वेस्टमेंट कॉरपोरेशन (सीपीआईसी, 45%) और डालियान कंस्ट्रक्शन इन्वेस्टमेंट ग्रुप (10%) का एक संयुक्त उद्यम है। संयंत्र में चार सीपीआर-1000 रिएक्टर इकाइयों को 2013 और 2016 के बीच चालू किया गया था.

क्रिप्स मिशन के इतिहास को जानिए

10. फुकुशिमा दैनी परमाणु ऊर्जा संयंत्र, जापान -फुकुशिमा दैनी या फुकुशिमा II परमाणु ऊर्जा संयंत्र, नाराहा, फुकुशिमा प्रान्त, जापान में स्थित है. यदि इसका परिचालन हो रहा होता तो इसे दुनिया के दसवें सबसे बड़े परमाणु ऊर्जा संयंत्र के रूप में स्थान दिया जाता. मार्च 2011 में ग्रेट ईस्ट जापान भूकंप के कारण फुकुशिमा II की चार रिएक्टर इकाइयां स्वचालित रूप से बंद हो गईं. 4,268MW (कुल) ऊर्जा उत्पादन क्षमता वाले इस संयंत्र का स्वामित्व TEPCO के पास है. इसका सञ्चालन भी TEPCO हीं करता है. इस संयंत्र में 1,100MW की सकल क्षमता और 1,067MW की कुल क्षमता वाली चार BWR इकाइयाँ शामिल हैं.

पानी के नीचे आये 9.0 तीव्रता के भूकंप से उत्पन्न शक्तिशाली सुनामी लहरों ने फुकुशिमा दाइची नयूक्लेअर पॉवर प्लांट (एनपीपी) में तीन रिएक्टरों के ख़राब होने का कारण बना, जबकि फुकुशिमा दैनी अपने रिएक्टरों के आपातकालीन बंद होने के कारण इस आपदा से बच गया. फुकुशिमा दैनी के सभी (चार) रिएक्टरों को तब से बंद हीं रखा गया है. जून 2018 में, TEPCO ने बताया कि वह इस संयंत्र को बंद करने पर विचार कर रहा है.

परमाणु का भविष्य –
  • दुनिया भर में 50 से अधिक परमाणु संयंत्र अभी निर्माणाधीन हैं, जिनमें से ज्यादातर चीन में स्थित हैं.
  • फुकुशिमा में दुर्घटना के कारण रेडियोधर्मी संदूषण के प्रभाव को कम करने के जापानी प्रयास (आठवें वर्ष में प्रवेश) भी अभी जारी हैं.
  • उद्योग निकाय वर्ल्ड न्यूक्लियर एसोसिएशन का कहना है कि परमाणु ऊर्जा बिजली पैदा करने का एक सुरक्षित साधन है. एसोसिएशन का यह भी कहना है कि संयंत्रों में दुर्घटनाओं का जोखिम कम हुआ है और यह संख्या अभी और घट रही है.
  • परमाणु विरोधी प्रचारकों का कहना है कि परमाणु की उच्च लागत होती है इससे बेहतर है कि यह धन नवीकरणीय ऊर्जा और ऊर्जा दक्षता पर खर्च किया जाए.

Free Demo Classes

Register here for Free Demo Classes

Please fill the name
Please enter only 10 digit mobile number
Please select course
Please fill the email

1. दुनिया में कुल कितने परमाणु ऊर्जा संयंत्र हैं?

वर्त्तमान में सम्पूर्ण विश्व में कुल मिलाकर 449 परमाणु ऊर्जा संयंत्र हैं

अमेरिका में कुल कितने परमाणु ऊर्जा संयंत्र हैं?

अमेरिका में परमाणु ऊर्जा संयंत्र की कुल संख्या 96 है. जो दुनिया में सबसे अधिक है।

3. दुनिया का सबसे बड़ा न्यूक्लियर पावर प्लांट कौन सा है?

काशीवाजाकी-करिवा परमाणु ऊर्जा संयंत्र

4. भारत में कितने परमाणु ऊर्जा संयंत्र रिएक्टर है?

भारत में लगभग 6,780 मेगावाट की स्थापित क्षमता वाले 22 परिचालन परमाणु रिएक्टर हैं।

Free E Books