विटामिन क्या होता है और यह कितने प्रकार के होते है What is Vitamin and types of Vitamin

Safalta Experts Published by: Blog Safalta Updated Sat, 23 Oct 2021 12:23 PM IST

विटामिन वे अदृश्य पदार्थ होते हैं, जो हमारे शरीर के अंदर विद्यमान होते हैं। ये वे पदार्थ होते हैं, जिनकी मदद से हमारे शरीर के अंदर विद्यमान अंग जैसे कणिका, हड्डी, नस, हृदय आदि अपना अपना पोषण और विकास करते हैं।
ये  दो प्रकार के होते हैं, इनके विवरण निम्नलिखित है-

अक्टूबर माह की करेंट अफेयर्स फ्री ईबुक: Download Here

जल में घुलनशील विटामिन -
 
1. विटामिन B 1 - इसे 'थायमिन' भी कहा जाता है।

कार्य-  यह एक एंजाइम का भाग होता है, इसका आवश्यकता मुख्यतः मेटाबॉलिज्म ऊर्जा के लिए होती है, जिससे यह नसों में अच्छे से कार्य करती है।
स्त्रोत-  सभी पोषणयुक्त खाद्य पदार्थों में मामूली रूप में पाया जाता है। खासकर रोटी, अनाज, अखरोट और बीज युक्त पदार्थों में पाया जाता है।

2. विटामिन बी 2 - इसे 'रिमोफ्लेविन' भी कहा जाता है।
कार्य - ये शरीर के चमड़ों और स्वस्थ नेत्र के दृश्य में सहायता करता है
स्त्रोत- दूध और इनसे बनी पदार्थों में, हरी सब्जियों में और रोटी और धान्य जैसे खाद्य पदार्थों में पाए जाते हैं।

3. विटामिन B 3 - इसे 'नियासिन' के नाम से जाना जाता है।
कार्य - इसे भी मेटाबॉलिज्म ऊर्जा के लिए एंजाइम की आवश्यकता होती है। इसका मुख्यतः कार्य नाड़ी तंत्र, पाचन तंत्र और स्वस्थ्य चमड़ो की रक्षा करने के लिए होता है।
स्त्रोत- मांस, मुर्गा का मांस, मछली, खाद्य अनाज, सब्जियां खासकर मशरूम, हरी सब्जियां, और मक्खन आदि।

4. पैंटोथेनिक अम्ल
कार्य - मेटाबॉलिज्म ऊर्जा की आवश्यकता के लिए एंजाइम का प्रयोग
स्त्रोत- अधिकतर खाद्य पदार्थों का ज्यादा फैला होता है।

5.

Source: social media

बायोटिन 
कार्य-ऊर्जा मेटाबॉलिज्म की आवश्यकता के लिए एंजाइम का प्रयोग
स्त्रोत- अधिकतर खाद्य पदार्थों में, बैक्टीरिया से टूट हुई खाद्य पदार्थों में।

6. विटामिन बी 6 - इसे 'पायरीडॉक्सिन' भी कहा जाता है।
कार्य- प्रोटीन मेटाबॉलिज्म की आवश्यकता के लिए एंजाइम का प्रयोग तथा लाल रक्त कोशिकाओं के निर्माण करने में सहायता करना।
स्त्रोत - मांस, मछली, मुर्गा का मांस, सब्जी और फल।
 

भारतीय क्षेत्र में लड़े गए प्रमुख युद्ध 

भारत के सभी राष्ट्रीय उद्यान विश्व की दस सबसे लंबी नदियां
भारत के प्रधानमंत्रियों की सूची जानिए भारत में आने वाले चक्रवात तूफानों के बारे में  India in Olympic Games

7. फॉलिक एसिड
कार्य- लाल रक्त कोशिकाओं और डीएनए को बनाने के लिए एंजाइम का प्रयोग करना।
स्त्रोत- हरी सब्जियां, फलियां, संतरे का रस, बीज युक्त पदार्थ और शुद्ध अनाज आदि।

8.

Free Demo Classes

Register here for Free Demo Classes

Please fill the name
Please enter only 10 digit mobile number
Please select course
Please fill the email
Something went wrong!
Download App & Start Learning
विटामिन बी 12 - इसे 'कैबलोमिन' भी कहा जाता है।
कार्य- नए कोशिकाओं को बनाने के लिए एंजाइम का प्रयोग करना,खासकर  नसों को कार्य करने में मदद करना।
स्त्रोत- मांस, मुर्गों की मांस, समुंद्री भोजन, अंडे, दूध और इससे बने पदार्थ आदि।

9. विटामिन सी - इसे 'एस्कॉर्बिक' अम्ल भी कहा जाता है।
कार्य- प्रोटीन मेटाबॉलिज्म को बनाने में एंजाइम का प्रयोग, खासकर रोगों से लड़ने के शारीरिक प्रतिरक्षा बढ़ाना,  शरीर में आयरन की उपस्थिति बनाए रखना।
स्त्रोत - फल, सब्जियों और खासकर खट्टे फलों में, जैसे स्ट्राबेरी, संतरे, काली मिर्च, कीवी, कच्चा आम, टमाटर आदि।

       • वसा में घुलनशील विटामिन -

10. विटामिन ए 
कार्य मसूड़े, चमड़े, दातों, हड्डियों और आंखों की रोशनी को स्वस्थ करने में मदद करता है।
स्त्रोत दूध, मक्खन, मलाई, अंडे, हरी सब्जियां, संतरे, गाजर आदि।

फ्री मॉक टेस्ट का प्रयास करें- Click Here

11. विटामिन डी 
कार्य - शरीर में हो रही हड्डियों के कैल्शियम की कमी को पूर्ति करने में।
स्त्रोत- वसा युक्त मछलियां, खासकर सूर्य की सुबह की प्रकाश, दूध आदि।

12. विटामिन ई 
कार्य कोशकाओं के दीवार की रक्षा करने में
स्त्रोत सोयाबीन, सूर्यमुखी की बीज, हरी सब्जियां, गेहूं की आटा, अखरोट, अंडे आदि।

13. विटामिन के 
कार्य- रक्त जमाव में सहायता करना
स्त्रोत- हरी पत्तियों वाली सब्जियां, ब्रोकली, अंकुरित अनाज, पपीता की पत्ती का रस आदि।


अब अपने एग्जाम के लिए करें पक्की तैयारी
अगर आप SSC GD, UP Police , CTET जैसी किसी भी एग्जाम की पक्की तैयारी करना चाहते है तो अभी सफलता के जरिए चलाए जा रहे फ्री कोर्स का लाभ पाने के लिए अभ्यर्थी गूगल प्ले स्टोर पर जाकर Safalta app डाउनलोड कर सकते हैं।

Free E Books