Constitution Day 2021: क्यों मनाया जाता है 26 नवंबर को संविधान दिवस, जाने मुख्य बातें

Safalta Experts Published by: Nikesh Kumar Updated Fri, 26 Nov 2021 12:20 PM IST
'संविधान दिवस', हमारे देश में हर साल 26 नवंबर को भारत के संविधान को अपनाने के उपलक्ष्य में मनाया जाता है। 26 नवंबर 1949 को, भारत की संविधान सभा ने भारत के संविधान को अपनाया, जो 26 जनवरी 1950 से लागू हुआ। इस वर्ष संविधान दिवस संसद के सेंट्रल हॉल में 'आजादी का अमृत महोत्सव' के हिस्से के रूप में मनाया जाएगा। राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद इस कार्यक्रम की अध्यक्षता करेंगे, जिसमें उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू, प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी, लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला और अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित होंगे। 
Source: social media


26 नवंबर को संविधान दिवस के रूप में क्यों मनाया जाता है?

2015 में, प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने 26 नवंबर को संविधान दिवस के रूप में मनाने की घोषणा की। यह घोषणा डॉ. बी आर अम्बेडकर की 125वीं जयंती के वर्ष भर चलने वाले उत्सव के हिस्से के रूप में की गई थी। इस दिन का उद्देश्य भारतीय संविधान के महत्व के साथ-साथ इसके मुख्य वास्तुकार डॉ बी आर अंबेडकर के बारे में जागरूकता लाना है। 

संविधान दिवस का इतिहास

जैसा कि हम जानते हैं कि 15 अगस्त 1947 को भारत आजाद हुआ था और 26 जनवरी 1950 से हम गणतंत्र दिवस मनाते हैं क्योंकि इसी दिन भारत का संविधान लागू हुआ था। देश में 1934 में संविधान सभा की मांग की गई। आपको बता दें कि एम.एन. रॉय, एक कम्युनिस्ट पार्टी के नेता, इस विचार को रखने वाले पहले व्यक्ति थे। इसे कांग्रेस पार्टी ने अपने हाथ में ले लिया और आखिरकार 1940 में ब्रिटिश सरकार ने इस मांग को स्वीकार कर लिया। अगस्त प्रस्ताव में भारतीयों को भारतीय संविधान का मसौदा तैयार करने की अनुमति  मिल गई।  

Free Study Materials

Start Your Preparation with Free Courses and E-Books



आजादी से पहले 9 दिसंबर 1946 को पहली बार संविधान सभा की बैठक हुई थी। संविधान सभा के पहले अध्यक्ष डॉ सच्चिदानंद सिन्हा थे। 29 अगस्त 1947 को डॉ. बी.आर. अम्बेडकर अध्यक्ष के रूप में 26 नवंबर, 1949 को समिति ने अपना काम पूरा कर लिया था। 24 जनवरी 1950 को, प्रक्रिया पूरी हुई जब सदस्यों ने दस्तावेज़ की दो हाथ से लिखी हुई कॉपी पर हस्ताक्षर किए, एक-एक हिंदी और अंग्रेजी में।

फ्री मॉक टेस्ट का प्रयास करें- Click Here

यह भी पढ़ें

जाने भारतीय वायुसेना दिवस क्यों मनाते हैं

प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कैसे करें

प्रतियोगी परीक्षाओं की बेहतर तैयारी के लिए उम्मीदवार सफलता के फ्री कोर्स की सहायता भी ले सकते हैं। सफलता द्वारा इच्छुक उम्मीदवार परीक्षाओं जैसें- SSC GD, UP लेखपाल, NDA & NA, SSC MTS आदि परीक्षाओं की तैयारी कर सकते हैं। इसके साथ ही इच्छुक उम्मीदवार सफलता ऐप से जुड़कर मॉक-टेस्ट्स, ई-बुक्स और करेंट-अफेयर्स जैसी सुविधाओं का लाभ मुफ्त में ले सकते हैं।

 

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree