6 Months Short Term Courses after Graduation जानिए ग्रेजुएशन के बाद के शॉर्टटर्म कोर्सेज जो देंगे आपके करियर को नई उड़ान

Safalta Experts Published by: Kanchan Pathak Updated Mon, 22 Aug 2022 04:39 PM IST

Highlights

अगर आप अपने कैरियर में कुछ नया या फिर अपने पुराने कैरियर को छोड़ एक नई शुरुआत करना चाहते हैं तो शॉर्ट टर्म कोर्सेज आपके लिए एक बेहतर ऑप्शन के द्वार खोल सकता है.

शॉर्ट टर्म कोर्सेस आप के लिए बहुत सारी नई सम्भावनाओं के दरवाजे खोल सकता है. अगर आप अपने कैरियर में कुछ नया या फिर अपने पुराने कैरियर को छोड़ एक नई शुरुआत करना चाहते हैं तो शॉर्ट टर्म कोर्सेज आपके लिए एक बेहतर ऑप्शन के द्वार खोल सकता है. इन कोर्सेस में फाइनेंस, कंप्यूटर एप्लिकेशन, होटल मैनेजमेंट, एनिमेशन, बिजनेस आदि से लेकर म्यूजिक, डांस आदि का भी सर्टिफिकेट या डिप्लोमा कोर्स कराया जाता है. और इन शॉर्ट टर्म कोर्सेस की मदद से आप बहुत हीं कम समय में अच्छी और मनपसन्द जॉब आराम से हासिल कर सकते है. समय सीमा या अवधि की बात की जाए तो अधिकाँश लोगों को छह महीने से लेकर एक साल तक की अवधि के शॉर्ट-टर्म कोर्सेस पसंद आते हैं.

नई टेक्नॉलोजी की भरमार

दरअसल नित नई टेक्नॉलोजी के इस युग में रोज कुछ न कुछ नई तकनीक सामने आ रही है. जाहिर है कि ऐसे में जॉब मार्केट के अन्दर नए स्किल्ड प्रोफेशनल्स की जरूरत आए दिन पड़ती है. ऐसे में अगर आप अपने किसी एक मनपसन्द विषय या एक से अधिक विषयों में शॉर्ट टर्म कोर्स कर लेते हैं तो आपके कैरियर के लिए बहुत से विकल्पों के दरवाजे एक साथ खुल जाते हैं.

Free Demo Classes

Register here for Free Demo Classes

Please fill the name
Please enter only 10 digit mobile number
Please select course
Please fill the email
तो आइए विस्तार से जानते हैं इन शॉर्ट टर्म कोर्स के बारे में.
 

क्या होता है शॉर्ट टर्म कोर्स

जैसा कि नाम से हीं स्पष्ट है, शॉर्ट टर्म कोर्स ऐसे कोर्सेस को कहते हैं जो कम अवधि में शीघ्र कम्पलीट हो जाते है. ये किसी एक विषय में आपको विशेष प्रज्ञता देने के अलावा विषय से सम्बन्धित विशिष्ट सर्टिफिकेट भी देते हैं. ये कोर्सेस आमतौर पर 1 महीने से 6 महीने तक के हो सकते हैं. यही नहीं शॉर्ट टर्म कोर्सेस लागत में साल भर की डिग्री कोर्सों से भी सस्ते होते हैं.
 

शॉर्ट टर्म कोर्स के लाभ

शॉर्ट टर्म कोर्स के बहुत से फायदे हैं. आइए जानते हैं -
  • हमारे इन्डियन एजुकेशन सिस्टम की पढ़ाई थ्योरी पर आधारित होती है. जाहिर है कि इस वजह से जॉब मार्केट की जरूरतों के लिहाज़ से देखा जाए तो इस पढ़ाई में नए दृष्टिकोण और नए मज़मूनों के ऊपर उतना ध्यान नहीं दिया जाता जितना देना चाहिए. इस न्यूनता को दूर करने के लिए शॉर्ट टर्म कोर्सेस कैंडिडेट्स को न सिर्फ इंडस्ट्री के हिसाब से जरूरी स्किल्स सिखाता है बल्कि और उन्हें सही जॉब पाने में सहायता भी करता है.
  •  सबसे बड़ी बात है कि इन 6 महीने के कोर्स में बहुत से डिसिप्लिन्स को कवर किया जाता है और इस तरह आपके पास ढेर सारे विकल्प मौजूद होते हैं, जिन्हें आप सीख सकते हैं.
  • बहुत से इंस्टीट्यूशन 6 महीने के ऐसे कोर्स भी कराते हैं जिन कोर्सों के लिए किसी खास योग्यता की आवश्यकता भी नहीं होती. इन कोर्सों को न्यूनतम योग्यता के साथ भी किया जा सकता है.
  • बहुत से कम अवधि के कोर्सेस वयस्कों को ध्यान में रखकर डिजाइन किए जाते हैं जिससे ज्यादा उम्र के लोग भी बगैर किसी हिचकिचाहट के इन कोर्सों को कर सकते हैं.
आज हम कुछ ऐसे शॉर्ट टर्म कोर्स के बारे में बात करेंगे जो आप ग्रेजुएशन के बाद कर सकते हैं -
 

शॉर्ट टर्म कोर्स इन आर्ट्स

  1. ग्रेजुएट सर्टिफिकेट्स इन टूरिज्म, होटल एंड इवेंट मैनेजमेंट (Graduate Certificate in Tourism, Hotel and Event Management)
  2. इंटेंसिव लीगल इंग्लिश प्लस इंटरनेशनल लॉ एलएलएम (Intensive Legal English Plus International Law LL.M)
  3. सर्टिफिकेट्स इन विजुअल आर्ट्स (Certificate in Visual Arts)
  4. फोटोग्राफी एंड इंट्रोडक्शन टू डिजिटल इमेजिंग (Photography and Introduction to Digital Imaging)
  5. यूरोपियन बेकिंग एंड पेस्ट्री आर्ट्स (European Baking and Pastry Arts)
  6. लीगल स्टडीज-ग्लोबल एक्सेस प्रोग्राम (Legal Studies-Global Access Program)
इसके अलावा अन्य विषयों में भी शॉर्ट टर्म कोर्सेज किये जा सकते हैं. आजकल विभिन्न विषयों में शॉर्ट टर्म कोर्सेज की सुविधा मौजूद है. आप अपनी पसंद के विषय को चुन सकते हैं. हालांकि अगर बात करें सबसे पॉपुलर और अच्छी जॉब ऑपॉरच्यूनिटी देने में सक्षम शॉर्ट टर्म कोर्स की तो वो है डिजिटल मार्केटिंग का सर्टिफिकेशन या डिप्लोमा कोर्स. 
अमर उजाला संस्थान भी डिजिटल मार्केटिंग में कोर्स ऑफर करता है. यहाँ आपके पास अपनी पसंद का कोर्स चुनने के लिए दो आप्शन मिलेंगे. 
  1. बेसिक डिजिटल मार्केटिंग कोर्स
  2. एडवांस डिजिटल मार्केटिंग कोर्स   
इन दोनों कोर्सेज के स्पेसिफिकेशन देखकर आप अपनी जरुरत और पसंद के हिसाब से एक कोर्स चुन सकते हैं. 

Click here to buy a course on Digital Marketing-  Digital Marketing Specialization Course

शॉर्ट टर्म कोर्स क्या होता है ?

जैसा कि नाम से हीं स्पष्ट है, शॉर्ट टर्म कोर्स ऐसे कोर्सेस को कहते हैं जो कम अवधि में शीघ्र कम्पलीट हो जाते है. 

शॉर्ट टर्म कोर्स की अवधि क्या होती है ?

इन कोर्सेस की अवधि आमतौर पर 1 महीने से 6 महीने तक हो सकते हैं.

शॉर्ट टर्म कोर्स का सबसे बड़ा फायदा क्या है ?

शॉर्ट टर्म कोर्स करने का सबसे बड़ा फायदा यह है कि ये किसी एक विषय में आपको विशेष प्रज्ञता देने के अलावा विषय से सम्बन्धित विशिष्ट सर्टिफिकेट भी देते हैं.

क्या शॉर्ट टर्म कोर्स मँहगे होते हैं ?

नहीं. बल्कि शॉर्ट टर्म कोर्सेस लागत में साल भर की डिग्री कोर्सों से भी सस्ते होते हैं.

क्या शॉर्ट टर्म कोर्स में उम्र की कोई सीमा है ?

यह कोर्स पर निर्भर करता है, पर ज्यादातर नहीं. बल्कि बहुत से कम अवधि के कोर्सेस तो वयस्कों को हीं ध्यान में रखकर डिजाइन किए जाते हैं जिससे ज्यादा उम्र के लोग भी बगैर किसी हिचकिचाहट के इन कोर्सों को कर सकते हैं.

Free E Books