Daily Top  Current Affairs: यहां 14 November  के करेंट अफेयर्स हिंदी में पढ़ें

safalta expert Published by: Chanchal Singh Updated Mon, 14 Nov 2022 04:39 PM IST

Daily Top  Current Affairs: अगर आप भी किसी प्रकार के प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं, तो आपके लिए यह लेख बहुत ही महत्वपूर्ण साबित हो सकता है। इसमें हम आज आपके लिए लाए हैं राष्ट्रीय और अंतराष्ट्रीय स्तर के करंट अफेयर। आपके प्रतियोगी परीक्षा के लिए लाभदायक हो सकता है। इस लेख का एक मात्र उद्देश्य यह है कि इस लेख से ज्यादा से ज्यादा प्रतियोगी परीक्षा के लिए तैयारी कर रहे छात्रों की सहायता करना है। आज के प्रमुख करंट अफेयर के विषय में पढ़ने के लिए नीचे स्क्रोल कीजिए।

Free Demo Classes

Register here for Free Demo Classes

Please fill the name
Please enter only 10 digit mobile number
Please select course
Please fill the email
Something went wrong!
Download App & Start Learning

Source: safalta

Delhi Trade Fair 2022, दिल्ली ट्रेड फेयर के बारे में जाने विस्तार से


  भारत का 41 वां भारतीय अंतरराष्ट्रीय व्यापार मेला इंटरनेशनल ट्रेड फेयर 14 नवंबर से शुरू हो गया है। इसका उद्घाटन केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल द्वारा किया गया है। यह इंटरनेशनल ट्रेड फेयर देश की राजधानी दिल्ली के प्रगति मैदान में आयोजित की गई है। कोरोनावायरस संक्रमण के चलते 2 साल बाद इस मेले का आयोजन किया गया है, आइए जानते हैं 14 नवंबर से 27 नवंबर तक आयोजित हुई इस ट्रेड फेयर के बारे में खास जानकारी।

Jharkhand Foundation Day, झारखंड राज्य स्थापना दिवस कब मनाया जाता है

 Jharkhand Foundation Day : हर साल 15 नवंबर को झारखंड स्थापना दिवस मनाया जाता है। साल 2000 में झारखंड राज्य की स्थापना हुई थी, इस साल राज्य अपना 21 वां स्थापना दिवस मना रहा है, इस अवसर पर आइए  जानते हैं झारखंड राज्य के बारे में विस्तार से, झारखंड राज्य की राजधानी रांची है, बहुत से झरने और जलप्रपात होने के चलते इसे झरनों का राज्य भी कहा जाता है। रांची झारखंड का तीसरा सबसे प्रसिद्ध शहर में से एक है, जहां भारतीय क्रिकेटर महेंद्र सिंह धोनी का गृह निवास है। आंदोलन के दौरान रांची आंदोलन का केंद्र हुआ करता था।

रांची को स्मार्ट सिटी मिशन के लिए डेवलप करने के लिए 100 भारतीय शहरों में एक चुना गया है।
 

जनजातीय गौरव दिवस का इतिहास और महत्व जाने विस्तार से


देश में आदिवासी समाज की समृद्ध संस्कृति एवं विरासत, धरोहर और उनके द्वारा दिए गए राष्ट्र निर्माण में योगदान को याद करने के लिए पिछले साल 2021 में केंद्र सरकार ने धरती आबा भगवान बिरसा मुंडा की जन्म जयंती को देश में जनजातीय गौरव दिवस के रूप में नामित किया था। पिछले साल देशभर में 15 नवंबर को बिरसा मुंडा की जयंती के अवसर पर जनजातीय गौरव दिवस मनाया गया, अब इसी सिलसिले को जारी रखते हुए केंद्र सरकार हर साल जनजातीय गौरव दिवस मनाता है। इस साल देश में दूसरी बार जनजातीय गौरव दिवस 15 नवंबर को मनाया जाएगा। झारखंड के मुंडा जनजाति से ताल्लुक रखने वाले भगवान बिरसा मुंडा का जन्म 15 नवंबर 1875 को हुआ था। 19वीं शताब्दी के अंत में ब्रिटिश शासन के दौरान आदिवासी बेल्ट के बंगाल प्रेसिडेंसी (वर्तमान में झारखंड) में आदिवासी आंदोलन का नेतृत्व बिरसा मुंडा ने किया था। इनकी जयंती के अवसर पर बिरसा मुंडा जयंती मनाई जाती है, जिसे पिछले साल सरकार ने बिरसा मुंडा नाम को बदलकर जनजातीय गौरव दिवस रखा था। पूरे झारखंड में धरती आबा के नाम से जाने जाने वाले बिरसा मुंडा के जन्मदिन के अवसर पर झारखंड की स्थापना दिवस भी मनाया जाता है। झारखंड साल 2000 में बिहार से अलग होकर एक नया राज्य बना था।

 बिरसा मुंडा के जीवन परिचय के बारे में विस्तार से


भगवान बिरसा मुंडा के नाम से जाने वाले बिरसा मुंडा, मुंडा जाति से संबंधित हैं। इन्होंने अंग्रेज शासकों के खिलाफ लड़ाई लड़ी एवं मुंडा आदिवासियों के हित की रक्षा की थी। भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन के इतिहास में बिरसा मुंडा का एक महत्वपूर्ण योगदान रहा है। आज के इस मैच में हम आपको बिरसा मुंडा के संपूर्ण जीवन परिचय के बारे में बताएंगे,

 

Free E Books